शेयर सूचकांक सेंसेक्स 277 अंक चढ़कर बंद हुआ

0
3

 मुंबई
 आईटी और बैंकिंग शेयरों में तेजी के चलते शेयर बाजारों में सोमवार को लगातार तीसरे कारोबारी दिन बढ़त देखने को मिली और प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स 277 अंक चढ़कर बंद हुआ। दिन के कारोबार में 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 39,263.85 के उच्चतम स्तर पर पहुंचने के बाद अंत में 276.65 अंक या 0.71 प्रतिशत बढ़कर 38,973.70 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई निफ्टी 86.40 अंक या 0.76 प्रतिशत बढ़कर 11,503.35 पर बंद हुआ। प्रमुख आईटी कंपनी टीसीएस ने कहा कि वह इस सप्ताह शेयरों की फिर से खरीद के प्रस्ताव पर विचार करेगी, जिसके बाद उसके शेयरों में सात प्रतिशत से अधिक की तेजी देखने को मिली। इसके साथ ही कंपनी 10 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण को हासिल करने वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज के बाद दूसरी भारतीय कंपनी बन गई। इसके अलावा टाटा स्टील, सन फार्मा, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, इंडसइंड बैंक, एचसीएल टेक, आईसीआईसीआई बैंक, एचयूएल और एचडीएफसी बैंक में भी तेजी हुई।

दूसरी ओर बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, भारती एयरटेल, बजाज ऑटो, पावरग्रिड और आईटीसी गिरावट के साथ बंद हुए। विश्लेषकों के अनुसार अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कोविड-19 संक्रमण से धीमे-धीमे उबरने की खबर के बाद निवेशकों की धारणा में सुधार हुआ। ट्रंप के स्वास्थ्य के ताजा बुलेटिन के बाद एशियाई शेयरों में तेजी आई। जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘निकट अवधि में, बाजार को ट्रंप की सेहत में सुधार, अमेरिका तथा भारत में राहत पैकेज की घोषणा, भारत में चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के नतीजों और ऋण की किस्त स्थगत पर उच्चतम न्यायालय के फैसले से उम्मीद बंधी हुई है। ’’ क्षेत्रवार बात करें तो बीएसई आईटी सूचकांक 4.06 प्रतिशत बढ़ा।

इसके अलावा प्रौद्योगिकी, घातु, स्वास्थ्य देखभाल और बैंक में भी तेजी रही। इस दौरान बीएसई के मिडकैप सूचकांक में 0.18 प्रतिशत की गिरावट रही, जबकि स्मॉलकैप में 0.38 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गई। विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 16 पैसे गिरकर 73.29 पर बंद हुआ। ब्रेंट क्रूड लगभग तीन प्रतिशत बढ़कर 40.41 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था। विश्लेषकों ने आगे कहा कि बाजार का ध्यान अब कॉरपोरेट आय पर रहेगा, जिनके परिणाम इस सप्ताह से आने लगेंगे।