यूपी पंचायत चुनाव 2020 : सोशल डिस्टेसिंग को ध्यान में रख कर बनेंगे नए वोटर 

0
2

रामपुर  
कोरोना के खौफ के बीच पंचायत चुनाव के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। एक अक्तूबर से सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण का काम शुरू होगा।पंचायत चुनाव के लिए राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण का काम जारी कर दिया गया है। इस आदेश के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने पंचायत चुनाव के लिए मतदाता सूचियों के संशोधन का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है।

कोरोना के खौफ के बीच कोरोना से बचाव करते हुए एक अक्तूबर से मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। एक अक्तूबर से शुरू होकर मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण का कार्यक्रम 12 नंवबर तक चलेगा। इस दौरान लोग अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करा सक ते हैं। मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने के लिए ऑन लाइन आवेदन भी किया जा सकता है। इसके लिए भी 12 नंबबर तक का समय दिया गया है। मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 29 दिसंबर को किया जाएगा।

यह जारी की गई गाइड लाइन
-बीएलओ को मोबाइल में डाउनलोड करना होगा आरोग्य सेतु ऐप

-पुनरीक्षण को जाने वाले कर्मियों को लगाना होगा मास्क

-सेनेटाइजर का भी करना होगा इस्तेमाल

-कागजातों पर हस्ताक्षर करते व कराने के बाद कागजों को सेनेटाइज करना होगा।

-प्रत्येक घर जाकर एक व्यक्ति से ही परिवार के सदस्य के नाम पूछने होंगे।

-सामूहिक रूप से भीड़ एकत्र न करके सूचियों में नाम संशोधन नहीं होगा।

कंटेंटमेंट खत्म होने के बाद होगा पुनरीक्षण
यदि कोई क्षेत्र कंटेंटमेंट एरिया घोषित है तो वहां उस दौरान पुनरीक्षण के लिए बीएलओ नहीं जाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी के मुताबिक कंटेंटमेंट एरिया की सीमा खत्म होने के बाद ही पुनरीक्षण का काम होगा। इसके लिए निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

कोरोना होने की सूचना तुंरत देनी होगी
यदि किसी बीएलओ को कोरोना हो जाता है और वह काम पर नहीं आता है तो उसकी सूचना तुंरत प्रशासन को देनी होगी। इसके बाद इसके स्थान पर दूसरे बीएओ की तैनाती की जाएगी।