मतदान के दौरान प्रतिशत बढ़े इसलिये स्वीप की गतिविधियां कागज पर नहीं क्षेत्र में दिखनी चाहिये – जिला सीईओ

0
3

मुरैना
 जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  तरूण भटनागर ने नगर निगम मुरैना, नगरीय निकाय एवं जनपद सीईओ को निर्देश दिये कि मतदान की तिथि तय हो चुकी है। मतदान का प्रतिशत बढ़ना चाहिये। इसके लिये सभी मिलकर स्वीप की गतिविधियों की आगे बढ़ायें। स्वीप की गतिविधियां कागज पर नहीं क्षेत्र में दिखनी चाहिये। यह निर्देश उन्होंने 1 अक्टूबर को नवीन जिला पंचायत भवन में संबंधित अधिकारियों को दिये। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला सीईओ आरके गोस्वामी, कमल यादव,  सुनील कुलश्रेष्ठ, नगर निगम के प्रतिनिधि, समस्त नगरीय निकायों के सीएमओ और सभी जनपद पंचायतों के सीईओ उपस्थित थे।

    जिला सीईओ तरूण भटनागर ने कहा कि चुनाव के पूर्व तक स्वीप की गतिविधियां लगातार चलती रहना चाहिये। चुनाव में हर आदमी को मताधिकार करने का अधिकार है। जो लोग पहली बार मतदान दे रहे होंगे, उनमें बड़ी उत्सुकता होगी। इसलिये नई-नई गतिविधियां लोंगो मतदान करने के लिये प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि मतदान का प्रतिशत पिछले चुनाव की अपेक्षा इस वर्ष बढ़ना चाहिये। हांलाकि पिछले 2018 में विधानसभा चुनाव की अपेक्षा लोक सभा चुनाव 2019 में वोट प्रतिशत बढ़ा हुआ था। हमारे जिले में स्वीप की गतिविधियां अच्छी रहीं। जिसका परिणाम चुनाव आयोग ने भी देखा। उन्होंने कहा कि वोट प्रतिशत बढ़ाने के लिये विकासखण्ड स्तर पर एम्बेसडर का उपयोग किया जा सकता है। जो नई-नई गतिविधियां कर लोंगो को प्रेरित करने का कार्य करते है।

    जिला सीईओ ने कहा कि इसके लिये मतदान केन्द्र बार बीएलओ, आशा कार्यकर्ता/सहायिका, नेहरू युवा केन्द्र की टीम गठित करें। यह कार्य 03 अक्टूबर तक हो जाना चाहिये। हर मतदान केन्द्र पर मतदाताओं को मतदान करने के लिये गतिविधियां करें। स्थानीय मतदाता उन्हें देंखेगे और अवश्यक मतदान करेंगे। इसके लिये चुनाव की बेवसाइट पर जाकर लघु फिल्म, पैम्पलेट, फोल्डर तैयार करायें। जिससे मतदाताओं को मत करने में रूचि आये। उन्होंने कहा कि टोल फ्री नम्बर 1950 का प्रचार करें। जिसमें मतदाता अपने वोटर कार्ड से अन्य संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकंे।