भालू के हमले में घायल होरीलाल की मिली जिंदगी

0
6

बिलासपुर
भालू के हमले से गंभीर रूप से घायल हुए कोरबा जिले के ग्राम पोड़ीखोहा के ग्रामीण होरीलाल सिम्स के डाक्टरों ने नया जीवन दिया। डॉक्टरों ने अपने अथक प्रयास से घायल का सफल आॅपरेशन कर उसके विकृत चेहरे को पूर्ण रूप से ठीक कर दिया है। मरीज की स्थिति में तेजी से सुधार हो रहा है।

मरीज के परिजनों ने बताया कि वह 4 अक्टूबर को पैदल जंगल के रास्ते से अपने घर जा रहा था। इसी दौरान शाम 6 बजे रास्ते में भालू ने अचानक उसके उपर हमला कर दिया। इस जानलेवा हमले से उसे गंभीर चोटे आई और उसका चेहरा पूर्ण रूप से विकृत हो गया था। उसके नाक की हड्डी टूट गई और मुंह पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गया था साथ ही उसके बाएं हाथ में भी गंभीर चोटे आई थी। मरीज को पहले जिला चिकित्सालय कोरबा में भर्ती कराया गया था। जहां वह स्वस्थ नहीं हो पाया। तब उसे 5 अक्टूबर को सिम्स रिफर किया गया। सिम्स में मरीज की पूर्ण जांच के पश्चात नाक, कान एवं गला विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. आरती पाण्डेय ने तत्काल उपचार प्रारंभ किया। डॉक्टर पाण्डेय के नेतृत्व में डॉ. विद्याभूशण साहू, डॉ. बी.आर. सिंग और डॉ. श्वेता मित्तल की टीम ने सफल आॅपरेशन को पूर्ण किया। यह आॅपरेशन करीब चार घंटे चला और मरीज के विकृत चेहरे को पूर्ण रूप से ठीक किया गया। मरीज के परिजनों ने डा. पाण्डेय एवं उसकी टीम का सहृदय आभार व्यक्त किया।

होरीलाल को सिम्स के आपातकालीन चिकित्सा ईकाई में भर्ती कराया गया था। नाक कान एवं गला विभाग की देखरेख एवं बेहतर ईलाज के चलते मरीज की स्थिति में काफी सुधार हुआ और उसे अब सामान्य वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है।