भारत में कोविड-19 के आंकड़ों से खौफ, अगस्त में करीब 20 लाख लोगों को हुआ कोरोना

0
3

 नई दिल्ली 
पूरी दुनिया को प्रभावित करने वाले खतरनाक कोरोना वायरस ने भारत में अब अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है। देश में पिछले एक महीने में कोरोना के जो आंकड़े सामने आए हैं, उससे साबित होता है कि भारत में कोरोना अब अपने पीक पर है। अगस्त महीने में भारत में दर्ज 20 लाख के करीब कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया का रिकॉर्ड तोड़ दिया। एक से 31 अगस्त के बीच करीब 20 लाख भारतीयों को कोरोना हुआ है और यह किसी भी देश के लिए एक महीने में दर्ज मामलों की सबसे बड़ी संख्या है। 

अगर मौतों की बात करें तो सिर्फ अगस्त महीने में 28 हजार से अधिक भारतीयों ने जान गंवाई है। अगस्त महीने में कोरोना वायरस से हुए मौत के मामलो में पिछले महीने यानी जुलाई के मुकाबले करीब 40 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया है। 

केंद्र सरकार और राज्य सरकारों से प्राप्त कोरोना डेटा के मुताबिक, अगस्त महीने में 1987705 कोरोना वायरस के मामले दर्ज किए गए हैं। अगस्त महीने के कोरोना मामलों ने अमेरिका का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है, जहां एक महीने में 1904642 मामले दर्ज किए गए थे। हालांकि, मौतों के मामले में अमेरिका और ब्राजील अब भी भारत से आगे हैं। भारत के लिहाज से राहत की बात बस यही है कि यहां मृत्युदर कम है। 

जुलाई महीने में कोरोना वायारस के 11.1 लाख पॉजिटिव केस सामने आए, वहीं 19122 लोगों की मौतें हुई थीं। जुलाई से अगस्त की तुलना करें तो न सिर्फ कोरोना से मौतें, बल्कि कोरोना केस में भी 45 से 50 फीसदी के बीच में उछाल दर्ज किया गया है। मौत के मामले में भारत अमेरिका और ब्राजील के बाद दुनिया का तीसरा देश है।

अगर भारत में अब तक के कोरोना डेटा पर गौर किया जाए तो भारत में अब तक 3,687,939 कोरोना के केस दर्ज किए गए हैं, जबकि 65,435 लोग जान गंवा चुके हैं। राहत की बात सिर्फ इतनी है कि 2,837,377 लोग कोरोना वायरस को हरा कर ठीक हो चुके हैं और देश में फिलहाल 785,127 एक्टिव केस हैं। सोमवार को भी कोरोना वायरस के 78 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए और हजार के करीब मौतें हुईं।