बलात्कार व मारपीट के मामलों में ठाटीपुर थाने में एफआईआर दर्ज

0
3

ग्वालियर
शहर के आॅटोमोबाइल कारोबारी नर्सिंग कॉलेज संचालक व शहर के कथित समाजसेवी मोहन समाधिया पर भाजपा नेत्री ने बलात्कार का मामला दर्ज कराया है। कारोबारी ने उससे बलात्कार ही नही किया बल्कि उसके साथ शारिरिक संबंध बनाने के लिये मारपीट की और जान से मारने की धमकी दी। एफआईआर होने के साथ ही कारोबारी अंडरग्राउंड हो गया है।

विश्वविद्यालय थाना पुलिस के पास भाजपा नेत्री रानी (परिवर्तित नाम) ने लिखित शिकायत जर्ज कराई की वह दो साल से कारोबारी मोहन समाधिया निवासी ठाटीपुर के संपर्क में आई थी। दरअसल दस साल पहले उसका उसके पति से तलाक हो गया था। ऐसे में वह अपने तीन बच्चों के साथ सिटी सेंटर में एक अपर्टामेंट में किराये से रह रही है। मिलने के बहाने मोहन समाधिया उसके घर आने लगा। रीना के मुताबिक वह उसे शादी का वादा कर चुका था। उसने बच्चो को भी अपनाने की बात की थी। इसके बाद वह उसके साथ शारिरीक संबंध बनाने लगा। इसे बाद जब शादी करने की बात की तो वह टाल गया। उसने शादी से एक दिन इनकार कर दिया और उसे धमकी दी कि आइंदा शादी की बात की तो जान से मार देगा। रानी का कहना है कि जब मोहन उसका धमकी व मारपीट कर के शोषण करने लगा तो उसे पुलिस की मदद की। पुलिस ने मामले की पड़ताल की इसके बाद मोहन के खिलाफ पीड़ित महिला के खिलाफ धारा 376, 323, 294 व 506 के तहत अपराध दर्ज कर लिया। फिलहाल आरोपी की गिरफ्तारी नही हो सकी है। पुलिस इस मामले में पीड़ित भाजपा नेत्री का मेडिकल भी कराएगी।

-इनका कहना है…
पीड़ित महिला ने बलात्कार व मारपीट की शिकायत की थी। इस पर हमने मोहन समाधिया के खिलाफ बलात्कार व मारपीट का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी फिलहाल फरार है, गिरफ्तारी के हम प्रयास कर रहे है।
रामनरेश यादव, टीआई विश्वविद्यालय थाना