धोनी की बेटी जीवा पर अभद्र टिप्पणी करने वाले नाबालिग को लेकर रांची पहुंची पुलिस, फफक कर रो पड़ा आरोपी

0
2

रांची
क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की बेटी जीवा पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले नाबालिग को झारखंड पुलिस गुजरात के कच्छ से लेकर गुरुवार को रांची पहुंची है। बताया जा रहा है कि जब आरोपी को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में लिया तो वो फफक कर रो पड़ा। पुलिस की पूछताछ में नाबालिग आरोपी ने बताया कि गलती का अहसास होने पर उसने अभद्र टिप्पणी संबंधित पोस्ट को तुरंत डिलीट भी कर दिया था। झारखंड पुलिस गुजरात के कच्छ गयी थी और वहां से आरोपी को ज्यूडिशियल रिमांड पर लेकर गुरुवार की सुबह रांची पहुंची। रांची लाने के बाद आरोपी नाबालिग को रांची के सदर हॉस्पिटल में ले जाया गया, जहां नाबालिग की कोविड-जांच के लिए भर्ती कराया गया है। रिपोर्ट आने के बाद उसे रिमांड होम भेजा जाएगा। बताया गया है कि आरोपी नाबालिग की उम्र 16 वर्ष है, इस कारण उसके खिलाफ जुवेनाइल एक्ट के तहत केस चलेगा। नाबालिग आरोपी पर सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के लिए आईटी एक्ट की धारा 63 और धमकी देने के लिए आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला चलेगा। आरोप सही साबित होने पर उसे दो से तीन साल तक की सजा हो सकती है।

धोनी के खराब प्रदर्शन की वजह से नाराज था: आरोपी
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, नाबालिग ने पूछताछ में बताया है कि आईपीएल (IPL 2020) में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) की टीम का वह बहुत बड़ा फैन है। ऐसे में 7 अक्टूबर को चेन्नई और कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के बीच हुए मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को मिली करारी हार के बाद उसे काफी गुस्सा आया था। मैच में उसे धोनी (MS Dhoni) से काफी ज्यादा उम्मीद थी लेकिन धोनी ने 12 बॉल में सिर्फ 11 रन ही बनाए थे। यही वजह है कि वह धोनी के काफी नाराज था।

गलती की एहसास होने पर डिलीट कर दिया था पोस्ट: आरोपी
पुलिस पूछताछ में पकड़े गए नाबालिग ने यह भी बताया है कि किसी प्रकार की दुश्मनी या प्री प्लान के तहत उसने इंस्टाग्राम पर कोई पोस्ट नहीं किया था। अन्य कई लोगों का इससे पहले आलोचनात्मक पोस्ट देखने के बाद उसने भी इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था। हालांकि उसे खुद भी अपनी गलती का थोड़ी देर बाद ही एहसास हो गया था जिसके बाद पोस्ट को डिलीट कर दिया था। गौरतलब है कि गुजरात के पश्चिम कच्छ पुलिस ने रविवार दोपहर उसे गांव से हिरासत में लिया। हालांकि इससे पहले ही उसने धमकी भरे पोस्ट को सोशल मीडिया से डिलीट कर दिया था। रविवार को ही रांची के रातू थाने में केस दर्ज किया गया था। ज्ञातव्य हो कि इस टिप्पणी के बाद रांची में धोनी के हरमू बाईपास रोड और सिमलिया स्थित आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गयी थी। वहीं इस अशोभनीय टिप्पणी के खिलाफ क्रिकेटरों और धोनी के समर्थकों ने रांची में जोरदार प्रदर्शन भी किया था।