टीम इंडिया में शामिल होकर सूर्यकुमार यादव ने रचा इतिहास 

0
132

 नई दिल्ली 
इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए शनिवार को टीम इंडिया का ऐलान हो गया है। अन्य लोगों के साथ मुंबई के धाकड़ बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव को टीम में शामिल किया गया है। सूर्यकुमार पहली बार टीम इंडिया के किसी भी फॉर्मेट में शामिल हुए हैं। लगातार शानदार प्रदर्शन कर रहे सूर्यकुमार के पिछले साल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाने वाली टीम में भी शामिल होने की पूरी संभावना थी। सचिन तेंदुलकर से लेकर तमाम क्रिक्रेटरों ने सूर्यकुमार के अभी तक टीम इंडिया में सेलेक्ट नहीं होने पर सवाल भी खड़े किए थे। दोस्तों और परिवार में सूर्या के नाम से मशहूर सूर्यकुमार वैसे तो करीब 15 साल से फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेल रहे हैं, लेकिन 30 साल की उम्र में पहली बार टीम इंडिया में सेलेक्ट होकर उन्होंने इतिहास रच दिया है।
 
घरेलू क्रिक्रेट में सूर्यकुमार मुंबई के लिए खेलते हैं। आईपीएल में पहली बार 2011 में वह मुंबई इंडियन का हिस्सा बने थे। बीच में कोलकाता राइडर्स के साथ भी रहे। सूर्यकुमार ने पिछले सीजन में शानदार बल्लेबाजी करते हुए 16 मैचों में 480 रन बनाए थे। इसकी बदौलत मुंबई इंडियंस की टीम रिकॉर्ड पांचवीं बार आईपीएल का खिताब अपने नाम करने में सफल रही थी।
 
 सूर्यकुमार यादव का परिवार बनारस का मूल निवासी है। पिता अशोक यादव का पूरा परिवार अब भी सैदपुर (अब गाजीपुर) के हथौड़ा गांव में रहता है। पिता अशोक कुमार यादव की मुंबई में नौकरी के कारण सूर्यकुमार की एजुकेशन मुंबई में ही हुई। सूर्यकुमार कुमार यादव के पिता अशोक यादव मुंबई में ही भाभा अटानमिक रिसर्च सेंटर (बीएआरसी) में इंजीनियर हैं। दादा श्री विक्रमा सिंह यादव सीआरपीएफ में इंस्पेक्टर रहे और 1991 में राष्ट्रपति पुलिस मेडल से सम्मानित हुए थे। सूर्यकुमार यादव ने मुंबई के ही परमाणु ऊर्जा केंद्रीय विद्यालय से शुरुआती पढ़ाई की। पिल्लई कॉलेज ऑफ आर्ट्स, कॉमर्स एंड साइंस मुंबई से बीकॉम किया। सूर्या के शुरुआती कोच इनके चाचा विनोद यादव रहे। बाद में चंद्रकांत पंडित और एचएस कामथ से कोचिंग ली।