जुलाई 2021 तक 20 से 25 करोड़ भारतीयों को वैक्‍सीन-स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन

0
2

नई दिल्‍ली
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों बीच दुनिया में कोविड 19 महामारी (Covid 19) की वैक्‍सीन या टीका के प्रति भी लोगों की आशाएं दिनोंदिन बढ़ रही हैं. हालांकि दुनियाभर में वैक्‍सीन  पर शोध हो रहा है. कुछ वैक्‍सीन (Covid 19 vaccine) के ट्रायल भी हो रहे हैं. इस बीच केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने रविवार को संडे संवाद 4 के जरिये सोशल मीडिया यूजर्स से बातचीत की. इस दौरान उन्‍होंने कहा कि भारत सरकार का लक्ष्‍य है कि जुलाई 2021 तक 20 से 25 करोड़ भारतीयों को कोरोना वैक्‍सीन उपलब्‍ध हो जाए.

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, 'सरकार की योजना 40 करोड़ से 50 करोड़ COVID-19 वैक्सीन खुराक प्राप्त करने और उपयोग करने की है. राज्यों को अक्टूबर के अंत तक प्राथमिकता के तौर पर जनसंख्या समूहों का विवरण भेजने की सलाह दी गई है. उन्‍होंने कहा कि स्वास्थ्य कर्मियों को अग्रिम पंक्ति में COVID-19 रोग प्रतिरोधक क्षमता उपलब्‍ध कराना सर्वोच्च प्राथमिकता है.

हर्षवर्धन ने कहा, 'वैक्सीन की खरीद केंद्रीय रूप से की जाएगी. वैक्‍सीन की प्रत्येक खेप को रियलटाइम में ट्रैक किया जाएगा. भारतीय वैक्सीन निर्माताओं को पूर्ण सरकारी समर्थन दिया जा रहा है.' उन्‍होंने कहा, 'भारत COVID-19 मानव चुनौती परीक्षणों में उद्यम करने की योजना नहीं बना रहा है. सरकार टीकों के लिए समान पहुंच सुनिश्चित करने के लिए सभी उपाय करने के लिए प्रतिबद्ध है.'
बता दें कि देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से 940 मरीजों की मौत हुई जिससे मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 1,01,782 हो गई. वहीं एक दिन में 75,829 और लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 65,49,373 हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से यह जानकारी दी गई. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से रविवार सुबह आठ बजे तक के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले जहां 65 लाख से पार पहुंच गये वहीं इससे स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या भी 55 लाख से ज्यादा हो गई. इसके साथ ही देश में इस संक्रमण से स्वस्थ होने की दर 84.13 फीसदी हो गई है.

आंकड़ों के अनुसार संक्रमण से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 55,09,966 है. देश में फिलहाल 9,37,625 कोविड-19 मरीजों का इलाज चल रहा है जो कि कुल मामलों का 14.32 फीसदी है. कोविड-19 मृत्यु दर अब घटकर 1.55 फीसदी रह गई है.