चुनाव से बीजेपी के उपाध्यक्ष ने थामा एलजेपी का दामन

0
1

पटना
बिहार चुनाव की तिथियों की घोषणा के बाद से बिहार की सियासत में उठापटक तेज हो गई है। सोमवार को बिहार बीजेपी के उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) ज्वॉइन कर ली है। चिराग पासवान ने राजेंद्र सिंह को एलजेपी की सदस्यता दिलाई। माना जा रहा है कि राजेंद्र सिंह अब दिनारा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं।

एलजेपी में शामिल होने के बाद राजेंद्र सिंह ने कहा कि दिनारा सीट की जनता के दबाव में मैं इस क्षेत्र से चुनाव लड़ने जा रहा हूं। लोगों के बेशुमार प्यार को दरकिनार नहीं कर सकता हूं। मैंने हर हाल में इस क्षेत्र से चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। इस बारे में एलजेपी से बात भी हो गई है। बता दें कि दिनारा सीट जेडीयू के खाते में गई है। यहां से नीतीश कुमार ने मंत्री जय कुमार सिंह को टिकट दिया है।

NDA से अलग होकर चुनाव लड़ेगी LJP
बिहार विधानसभा चुनाव में एलजेपी ने जेडीयू के खिलाफ कैंडिडेट के उतारने और बीजेपी को समर्थन करने का ऐलान किया है। इतना ही नहीं एलजेपी ने बिहार में नरेंद्र मोदी के नाम और काम पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। बिहार में 143 सीटों पर एलजेपी और जेडीयू के प्रत्याशी आमने सामने होंगे।

बीजेपी ने लोजपा को दिया कड़ा संदेश
बिहार विधाननसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने लोकजनशक्ति पार्टी (एलजेपी) को कड़ा संदेश दिया है। बीजेपी ने चिराग पासवान और एलजेपी को साफ संदेश दिया है कि वह बिहार चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का नाम लेकर वोट नहीं मांग सकते हैं। बीजेपी सूत्रों का कहना है कि एलजेपी से साफ तौर से कहा गया है कि वह बिहार चुनाव में किसी भी किस्म से बीजेपी का नाम नहीं लेंगे। क्योंकि बिहार में दोनों पार्टियां अलग-अलग दमखम दिखा रही हैं।

एलजेपी से कहा गया है कि उनकी पार्टी के किसी बैनर, पोस्टर या भाषण में पीएम मोदी और बीजेपी का नाम नहीं लिया जाना चाहिए। जब कोई पार्टी एनडीए से अलग हो गई है तो उसे किसी भी किस्म से पीएम मोदी के नाम को यूज करने की इजाजत नहीं दी जा सकती है।