गजराज बांध बचाने रायपुर वासियों को एक साथ आना होगा आगे

0
2

रायपुर
संतोषी नगर पुराना धमतरी रोड में 230 एकड़ में स्थित गजराज बांध को बचाने के लिए पूरे रायपुर वासियों को आगे आना पड़ेगा क्योंकि 65 एकड़ पहले ही पट चुका है और अब 100 एकड़ को काटकर राज्य सरकार नगर निगम के के सहयोग से वहां पर मनोरंजन पार्क बनाने जा रहा है। 230 में से अब सिर्फ 65 एकड़ में ही गजराज बांध तालाब सिमट कर रह जाएगा।

सुप्रसिद्ध पर्यावरणविद डॉक्टर पुरुषोत्तम चंद्राकर ने बताया कि पिछले दिनों नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर गजराज बांध तालाब का निरीक्षण करने के लिए गए थे और निगम के अधिकारियों को वहां पर जल्द से जल्द मनोरंजन पार्क के लिए निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश दिए हैं। वर्तमान स्थिति में 65 एकड़ पहले ही पट चुका है और वहां पर कुछ बिल्डरों ने अवैध कब्जा कर निर्माण कार्य शुरू भी कर दिया है। राज्य सरकार और नगर निगम कब्जा किए 65 एकड़ को अपने कब्जे में लेकर 230 एकड़ को वाटर बॉडी यानी जल संरक्षण क्षेत्र बनाती है तो इससे रायपुर की आगामी 50 सालों की पानी की समस्या ही समाप्त हो जाएगी। लेकिन खुद राज्य सरकार और नगर 100 एकड़ में मनोरंजन पार्क बनाने का निर्णय ले लिया है। अगर 100 एकड़ में मनोरंजन पार्क बन जाता है तो सिर्फ 65 एकड़ में ही गजराज बांध तालाब सिमट कर रह जाएगा।

पर्यावरण व जल संरक्षण के लिए हम रायपुर वासियों को एक साथ आगे आना होगा। कुछ लोग यह मानते हैं कि पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य करना सिर्फ सरकार या कुछ संस्थाओं की जिम्मेदारी है,  यह निरर्थक सोच है, वास्तव में पर्यावरण संरक्षण समाज के हर वर्ग तथा हर नागरिक की जिम्मेदारी है, प्रत्येक व्यक्ति जब इस अभियान से जुड़ेगा तभी हम पर्यावरण व जल संरक्षण के लिए सभी को एक साथ लाकर सफल हो सकते है।

डॉक्टर चंद्राकर ने बताया कि धरती के दो तिहाई पानी भरा हुआ है फिर भी पीने योग्य शुद्ध जल पृथ्वी पर उपलब्ध जल का मात्र 1 प्रतिशत हिस्सा ही है, 97 प्रतिशत जल महासागर में खारे पानी के रूप में भरा हुआ है और शेष रहा 2 प्रतिशत जल बर्फ के रूप में जमा हुआ है। आज समय है कि हम पानी की कीमत समझे यदि जल व्यर्थ बहेगा तो आगे आने वाले समय में पानी की कमी एक महा संकट बन जाएगी।