कोरोनाकाल में निगम कर्मी पेश कर रहे हैं मानवता की मिसाल – प्रमोद दुबे

0
2

रायपुर
कोरोनाकाल की स्थिति क्या है यह आप स्वंय देख लें जब मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो रहे हैं तो परिवार के लोग लेने तक नहीं आ रहे कोविड सेंटर,ऐसे में निगम के अधिकारी-कर्मचारी शहर के अलग अलग जगहों पर रहने वाले ऐसे लोगों को अपने वाहनों से घर तक छोड़ रहे हैं। पूरे कोरोनाकाल में निगम कर्मियों ने जिम्मेदारी से ड्यूटी करते हुए मानवता की मिसाल पेश की है।

नगर निगम के सभापति एवं पूर्व महापौर प्रमोद दुबे ने बताया कि आज जो लोग कोविड सेंटर में इलाज करा रहे हैं, बलबीर सिंह जुनेजा स्टेडियम से आज 30 लोग डिस्चार्ज हुए हैं उनको घर तक छोडऩे के लिए नगर निगम के जोन 4 आयुक्त विनय मिश्रा,लोकेश चंद्रवंशी,शेखरसिंह एवं सब इंजीनियर आशीष श्रीवास्तव ने मोर्चा संभालते हुए उनके घरों तक छोडऩे हेतु गाड़ी की व्यवस्था कराई ,जबकि जो लोग भर्ती थे उन सभी का घर रायपुर के अलग-अलग स्थानों में है उन्होंने अपने रिश्तेदारों को फोन लगाया उनमें से बहुतों के रिश्तेदार उनको लेने नहीं आए,तो 2 लोगों ने उनसे घर तक छोडऩे मदद मांगी,संज्ञान में जब यह बात आई तो मैंने जोन-4 आयुक्त विनय मिश्रा से उनके घरों तक छुड़वाने की व्यवस्था करने हेतु कहा छुट्टी के दिन एवं कड़ी लॉक डाउन के बीच जो मरीज डिस्चार्ज हुए हैं नगर निगम के जोन 4 की टीम पूरी सहृदयता से मरीजों को उनके घर तक छोडऩे का काम किया है। सभापति प्रमोद दुबे ने कहा है कि लोगों को अब यह समझना होगा कि जब ऐसे संकट की घड़ी में उनके स्वयं के रिश्तेदार उनको लेने नहीं आ रहे हैं तो इस बीमारी की स्थिति कितनी भयावह होगी इसलिए अपनी जागरूकता का प्रमाण निश्चित रूप से दें। सब्जी लेने, किराना स्टोर में या मेडिकल स्टोर में जाकर बराबर दूरी बनाकर सामान खरीदें एवं मास्क का उपयोग। हर स्थिति में साबुन से हाथ धो ले या सेनेटाइज कर लें। इन सब बातों को अगर आत्मसात कर लेंगे तो किसी अस्पताल जाने या दवाई खाने की आवश्यकता नहीं होगी। कोरोना की स्थिति को समझें और अपने,परिवार व समाज की सुरक्षा का ध्यान रखें।