ऋषिकेश में फिर शुरू हुई रिवर राफ्टिंग, 10 दिन में 8,000 बुकिंग

0
1

ऋषिकेश
कोरोना वायरस (Corona virus) के कारण हुए लॉकडाउन (Lockdown) के चलते पूरे देश में बंद पड़े टूरिस्ट स्पॉट अब धीरे-धीरे खुलने शुरू हो गए हैं. उत्तराखंड के ऋषिकेश में भी रिवर राफ्टिंग शुरू हुए एक हफ्ते से ज्यादा हो चुका है. लगभग 6 महीने बाद रिवर राफ्टिंग (River rafting) के शुरू होते ही ऑर्गेनाइजर्स को भारी बुकिंग मिल रही हैं. 10 दिन के भीतर 8,000 से ज्यादा टूरिस्ट यहां राफ्टिंग का लुत्फ उठाने आ चुके हैं.

ऋषिकेश में राफ्टिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष दिनेश भट्ट ने मंगलवार को कहा, 'अकेले ऋषिकेश ने सिर्फ तीन दिन में 6,000 टूरिस्ट के साथ एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है.' उन्होंने बताया कि राफ्टिंग से प्रतिबंध हटने के बाद यहां 10 दिन में 8,000 से ज्यादा टूरिस्ट आ चुके हैं. इनमें से सिर्फ वीकेंड पर ही तीन दिन के भीतर 6,000 यात्रियों का स्वागत किया जा चुका है.

एक राफ्ट पर सिर्फ 4 लोग
दिनेश भट्ट ने बताया कि बिजनेस के लिहाज से उन्हें काफी अच्छा रिस्पॉन्स देखने को मिला है. हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन रखने की वजह से राफ्टिंग कंपनियों को अभी भी नुकसान उठाना पड़ रहा है. पहले एक राफ्ट पर 10 लोग सवार हो सकते थे, लेकिन नए निर्देशानुसार 2 गाइड के साथ केवल 4 लोगों को ही राफ्ट पर जाने की अनुमति है.

नुकसान में भी नहीं बढ़ाया किराया
उन्होंने कहा, 'राफ्ट पर लोगों की संख्या घटने के बावजूद हमने किराया नहीं बढ़ाया है. इस वजह से हमें नुकसान हो रहा है. हालांकि, हमारे लिए लोगों की सुरक्षा ज्यादा मायने रखती है.' टूरिज्म सेक्रेटरी दिलीप जावलकर ने कहा कि एडवेंचर टूरिज्म राज्य की टूरिज्म इंडिस्ट्री का एक खास हिस्सा है. उन्होंने कहा, 'मैं एंडवेंचर्स स्पोर्ट्स एक्टिविटीज के खोले जाने से काफी खुश हूं. बड़ी संख्या में टूरिस्ट राज्य की तरफ आकर्षित हो रहे हैं.'