अब भुगतनी होगी 18 साल की जेल,चीन के अरबपति ने राष्ट्रपति जिनपिंग को कहा जोकर

0
3

चीन
चीन के एक बड़े कारोबारी को राष्ट्रपति शी जिनपिंग को जोकर बुलाना काफी महंगा पड़ा है. चीनी सरकार की तरफ से दायर शिकायत पर कारोबारी रेन झिकियांग को कोर्ट से 18 साल जेल हुई है. मार्च में चीन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ घनिष्ठ संबंध रखने वाले सेवानिवृत्त रियल एस्टेट टाइकून रेन झिकियांग ने कथित तौर पर राष्ट्रपति शी जिनपिंग को जोकर कहा था. उन्होंने यह आलोचना कोरोना वायरस महामारी से निपटने में चीनी राष्ट्रपति के असफल रहने पर की थी. इस बयान के बाद झिकियांग पर सरकार की तरफ से भ्रष्टाचार से संबंधित अपराधों के आरोप भी लगाए गए.

इस मामले में अदालत ने मंगलवार को चीनी अरबपति को राष्ट्रपति शी जिनपिंग की आलोचना करने के आरोप में 18 साल जेल की सजा सुनाई. मंगलवार को बीजिंग की एक अदालत ने रेन को कई आरोपों में दोषी पाया, जिसमें सार्वजनिक कोष में 16.3 मिलियन डॉलर (110.6 मिलियन युआन) का गबन करना, रिश्वत स्वीकार करना और सत्ता का दुरुपयोग शामिल था. इससे कथित तौर पर चीन को  कुल $ 17.2 मिलियन डॉलर (116.7 मिलियन युआन) का नुकसान हुआ.
 
जजों ने उन्हें 18 साल की जेल की सजा सुनाई और $ 620,000 (4.2 मिलियन युआन) का जुर्माना लगाया. अदालत ने कहा कि उसने "स्वेच्छा से अपने सभी अपराधों को स्वीकार कर लिया है" और "अदालत के फैसले को स्वीकार करने के लिए वह तैयार थे, क्योंकि उससे अवैध कमाई बरामद की गई थी."

कानूनी पर्यवेक्षकों के अनुसार, चीन की अदालत प्रणाली में लगभग 99% सजा की दर है, और कम्युनिस्ट पार्टी के अंदरूनी सूत्रों के नेतृत्व में भ्रष्टाचार के आरोपों का इस्तेमाल अक्सर सत्ता के खिलाफ जाने वाले लोगों के लिए किया जाता है.

रेन को ये भारी सजा चीने के ऐसे बड़े लोगों को एक संदेश देने के लिए दी गई है. संदेश ये है कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग की किसी भी सार्वजनिक आलोचना या अवहेलना को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, क्योंकि बीजिंग महामारी से निपटने की कोशिश कर रहा है और अमेरिका की तरफ से अंतरराष्ट्रीय दबाव का सामना कर रहा है.