यूपी में हुए यौन शोषण की एफआईआर कराने 900 किलोमीटर दूर गई महिला

0
5

नागपुर, यूपी के हाथरस में हुई गैंगरेप और मर्डर की घटना अभी सुर्खियों में है इस बीच रेप की एक और वारदात की खबर आई है। लखनऊ के इस मामले में 22 साल की विवाहित नेपाली महिला बार-बार अपने परिचित के हाथों यौन शोषण का शिकार हुई। आरोपी ने इस दौरान उसके वीडियो बनाए और सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिए। अपने साथ हुए इस शोषण की शिकायत दर्ज कराने के लिए महिला को टैक्‍सी से 900 किलोमीटर दूर नागपुर जाना पड़ा।

चूंकि आरोपी प्रवीण यादव के स्‍थानीय पुलिसवालों से संबंध थे इसलिए पीड़िता ने नागपुर में रह रही अपनी नेपाली दोस्‍त के पास जाना उचित समझा। महिला के अनुसार, यादव ने लॉकडाउन शुरू होने से पहले उसे वित्‍तीय मदद देने का वादा किया था। लेकिन इसके बाद यौन शोषण का सिलसिला शुरू हो गया।

पीड़‍िता के सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्‍ट किए वीडियो
यादव ने इसके वीडियो भी बनाए और इन्‍हें वायरल करने की धमकी देकर जबरन पीड़‍िता से संबंध बनाता रहा। पीड़‍ित का धैर्य उस समय टूट गया जब यादव ने पीड़‍िता के सोशल मीडिया अकाउंट पर उन वीडियो को पोस्‍ट कर दिया। ऐसा उसने जानबूझकर किया ताकि नेपाल में रह रहे महिला का परिवार और उसका पति भी उन्‍हें देख सके। यादव ने महिला के सोशल मीडिया अकाउंट के पासवर्ड भी बदल दिए थे ताकि महिला वीडियो डिलीट न कर सके। इसके बाद महिला ने आरोपी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करने का मन बना लिया।

नागपुर से मामला लखनऊ हुआ ट्रांसफर
नागपुर के पुलिस प्रमुख अमितेश कुमार ने इस बात की पुष्टि की है कि कोराडी पुलिस स्‍टेशन में इस मामले की एफआईआर दर्ज की गई है। यह मामला यूपी ट्रांसफर कर दिया गया है क्‍योंकि अपराध लखनऊ में ही हुआ था और आरोपी भी वहीं रहता है।