चीन में बना माल नहीं ढोएंगे इंदौर के ट्रांसपोर्टर

0
208

इंदौर ट्रक ऑपरेटर्स एंड ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन का निर्णय

हम्माल चीनी सामान की लोडिंग-अनलोडिंग बंद करें, चालक भी चायना के माल से भरे ट्रक न चलाएं

brijesh parmar
इंदौर। चीन के साथ हुई झड़प के दौरान सीमा पर 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद इंदौर ट्रक ऑपरेटर्स एंड ट्रांसपोर्टर्स एसोसिएशन ने चीन में बना माल नहीं ढोने का निर्णय लिया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष सीएल मुकाती ने बताया कि देश की सीमा पर हमारे सैनिक सुरक्षा के लिए तैनात हैं। एक तरफ जहां चीनी सैनिक हमारे सैनिकों को मार रहे हैं, वहीं चीनी कंपनियां हमारे साथ व्यापार कर रही हैं। इसलिए हमने अपने सभी सदस्यों से अनुरोध किया है कि वे चायना के माल की बुकिंग बंद कर दें। हम्माल भाई इसके सामान की लोडिंग-अनलोडिंग बंद करें, वहीं चालक भी चायना के माल से भरे ट्रक न चलाएं। हम देश की जनता से भी अनुरोध कर रहे हैं कि वे लोग चीनी माल न खरीदें। यही शहीद सैनिकों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

चीनी सामान का किया विरोध
बता दें कि चीन के खिलाफ पूरे देश में खासा आक्रोश दिख रहा है। अपनी करतूतों से बाज न आने वाले चीन ने सीमा पर तैनात भारतीय जवानों पर हमला कर दिया जिसमें 20 शहीद हो गए। जवाबी कार्रवाई में चीन के भी 43 सैनिक मारे गए हैं। अब देशभर में लोग सड़क पर उतर अपने गुस्से का इजहार कर रहे हैं। राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात समेत तमाम राज्यों के कई शहरों में प्रदर्शन का दौर जारी है। बंगाल के उत्तरी जिले के विभिन्न इलाकों में सैंकड़ों लोगों ने शहीद भारतीय जवानों के लिए न्याय की गुहार लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया और चीनी सामानों के बहिष्कार की अपील की।

गुस्साए लोगों ने बुधवार को देश भर में विरोध प्रदर्शन किया और चीनी सामानों पर जमकर अपना गुस्सा निकाला। गुजरात के अहमदाबाद स्थित बापू नगर में चीन की हरकत से गुस्साए लोगों ने तो चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की तस्वीरों को आग में जलाकर खाक कर दिया।