Tik-Tok से संस्कृति को खतरा बता पाक में भी बैन

0
3

इस्लामाबाद
पाकिस्तान ने टिक-टॉक (Tik-Tok) को बैन करने का फैसला किया है। अपने दोस्त चीन की कंपनी ByteDance के वीडियो शेयरिंग ऐप को पाक ने 'अश्लीलता' फैलाने के चलते ब्लॉक किया है। गौरतलब है कि भारत ने जून में सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए टिक-टॉक समेत कई चीनी ऐप्स को बैन कर दिया था। हालांकि, पाकिस्तान ने साफ किया है कि उसने सुरक्षा नहीं, संस्कृति के लिए यह फैसला किया है और अगर टिक-टॉक सुधार करेगा तो पाकिस्तान टेलिकम्यूनिकेशन अथॉरिटी (PTA) अपने फैसले पर दोबारा विचार करेगी।

कई बार दी गई चेतावनी
इस फैसले के बारे में एक अधिकारी ने रॉयटर्स को बताया है कि बार-बार अनैतिक और असभ्य कॉन्टेंट को ब्लॉक करने के लिए प्रक्रिया तैयार करने के लिए कहा जा रहा था लेकिन प्लैटफॉर्म पाकिस्तानी अथॉरिटी को संतुष्ट नहीं कर सका। इसके बाद पाकिस्तान में टिक-टॉक ब्लॉक करने का फैसला किया गया। जुलाई में ही पाकिस्तान ने टिकटॉक को इसके लिए चेतावनी दी थी। हालांकि, PTA ने साफ किया है कि अगर टिक-टॉक कॉन्टेंट मॉडरेट करने के लिए उचित मकैनिज्म लाएगा तो अथॉरिटी अपने फैसले पर दोबारा विचार करेगी।

पाकिस्तानी सूचना मंत्री शिबली फराज ने बताया था कि प्रधानमंत्री इमरान खान एक दो बार नहीं, बल्कि 15 बार इस मुद्दे पर उनसे बात कर चुके हैं। उन्हें इस ऐप से डेटा सिक्यॉरिटी की चिंता नहीं है, बल्कि वे देश में तेजी से फैल रही अश्लीलता के कारण टिकटॉक समेत कई ऐप्स पर बैन लगाने पर विचार कर रहे थे।

इमरान को संस्कृति की चिंता
शिबली ने कहा था कि इमरान खान का ज्यादातर समय यूरोप और अमेरिका में बीता है। इसके बावजूद वे पाकिस्तान की संस्कृति को लेकर चिंतित हैं। वे फिर से हमारी संस्कृति को मजबूत करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि पीएम इमरान चाहते हैं कि जिस तरह तुर्की और ईरान में टीवी चैनलों के प्रसारण पर सरकार का अधिकार है, वैसी ही व्यवस्था पाकिस्तान में भी होनी चाहिए।