कांग्रेस में बदल सकते हैं कुछ प्रत्याशी, भाजपा 6 संभावित प्रत्याशियों का काट सकती है टिकट

0
145

भोपाल, प्रदेश में 28 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस से भाजपा में आए 6 संभावित कैंडिडेट के टिकट बदले जा सकते हैं। पार्टी इन नेताओं को कहीं और एडजस्ट कर सकती है। इसके लिए पार्टी सर्वे रिपोर्ट के आधार पर ऐसे लोगों को टिकट दे सकती है जिनकी चुनाव में जीत तय है। उधर, कांग्रेस में कुछ टिकट बदल सकते हैं। मेहगांव समेत कुछ सीटों पर भारी कश्मकश है। यहां से चौधरी राकेश सिंह को टिकट दिए जाने की कवायद के बीच एक बार फिर पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल की चिट्ठी का मामला गर्मा सकता है।

भाजपा में 28 विधानसभा सीट में प्रत्याशियों की सूची पार्टी ने अभी जारी नहीं की है लेकिन कांग्रेस से आए 25 पूर्व विधायकों को टिकट देने का फैसला अब तक तय रहा है। अब सर्वे के आधार पर इनमें से 6 कैंडिडेट के टिकट बदलने की चर्चा उठी है। माना जा रहा है कि इन प्रत्याशियों को पार्टी कहीं और एडजस्ट कर भाजपा के उन नेताओं को टिकट दे सकती है जिनकी क्षेत्र मे अच्छे परफार्मेंस के आधार पर जीत तय मानी जा रही है। सूत्रों का कहना है कि सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को इससे अवगत भी करा दिया गया है और यह भी तय है कि अगर सिंधिया ने हां कही तो ही इन कैंडिडेट्स के टिकट बदले जाएंगे। बताया गया है कि इसी के चलते टिकट वितरण का काम एक दो दिन के लिए टला है और संभव है कि पहली सूची में ऐसे विधानसभा क्षेत्रों के नाम रोक भी लिए जाएं।

प्रदेश में होने वाले उपचुनावों पर संघ भी नजर रखे है। विस्तारकों और पदाधिकारियों से मिले फीडबैक पर निगाहें जमाए संघ के पदाधिकारी जिन क्षेत्रों में भाजपा कमजोर है, उनकी रिपोर्ट से पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को अवगत भी करा रहे हैं।

इधर, चंबल संभाग में मेहगांव विधानसभा सीट से चौधरी राकेश सिंह को टिकट दिए जाने की चर्चा कांग्रेस में जोरों पर है। इसको लेकर पार्टी का एक धड़ा फिर विरोध की स्थिति में है लेकिन फिलहाल कोई कुछ खुलकर नहीं कह रहा है। कांग्रेस किसी भी तरह वापसी चाहती है, इसलिए चुनाव के ऐन टाइम में कोई अपने सिर पर बगावत का बोझ नहीं लेना चाहता है। उधर, यह भी चर्चा है कि कांग्रेस में कुछ सीटों पर टिकट बदले भी जा सकते हैं। बदनावर में कैंडिडेट कमजोर बताया जा रहा है तो सांची में प्रत्याशी का विरोध सामने आ चुका है। इसी तरह अनूपपुर में राज्य प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा देने वाले रमेश सिंह को भी टिकट की उम्मीद है। इसको लेकर जिन्हें टिकट मिला है, उनकी रिपोर्ट पीसीसी चीफ कमलनाथ तक पहुंचाई जा रही है।