जल्द हो सकता है शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार! जानिए…कौन बनेगा मंत्री

0
97
Shivraj cabinet may be expanded soon!

भोपाल, मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पद ग्रहण के बाद अब उप मुख्यमंत्री के लिए दो नाम को फाइनल करने पर निर्णय किया जा रहा। बुधवार को वायरल लिस्ट में शिवराज मंत्रिमंडल का जल्द विस्तार के साथ डॉ. नरोत्तम मिश्रा और तुलसी सिलावट उप मुख्यमंत्री बनाने की चर्चा है। कहा जा रहा है कि शिवराज कैबिनेट में करीब दो दर्जन से अधिक मंत्रियों को शपथ को दिलाई जाएगी!

Shivraj cabinet may be expanded soon!
shivraj-narottam

शिवराज सिंह चौहान द्वारा चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार की कवायद शुरू हो गई है। मंत्रिमंडल में काफी सोच समझकर मौका दिया जाएगा। सूत्रों का कहना है कि समीकरणों को साधने के लिए इस बार मंत्रिमंडल में दो उप मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। वहीं करीब दो दर्जन से अधिक विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा इसके लिए आलाकमान के साथ चर्चा का दौर चल रहा है।

वर्तमान राजनीतिक समीकरणों को देखते हुए इस बार डा.नरोत्तम मिश्रा व तुलसी सिलावट को उप मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। कांग्रेस सरकार गिराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सिंधिया समर्थक पूर्व मंत्रियों को भी मंत्रिमंडल में मौका मिलना तय है। यही नहीं कांग्रेस से भाजपा में आए वरिष्ठ आदिवासी विधायक बिसाहूलाल सिंह, एदल सिंह कंसाना और हरदीप सिंह डंग को भी मंत्रिमंडल में लिया जाना तय है।

सिंधिया से भी ली जाएगी सलाह….

मंत्रिमंडल के गठन के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ ही कांग्रेस से भाजपा में आए ज्योतिरादित्य सिंधिया से भी चर्चा करेंगे।

शिवराज मंत्रिमंडल में होंगे शामिल बनेंगे मंत्री….

गोपाल भार्गव, भूपेन्द्र सिंह, रामपाल सिंह, यशोधरा राजे सिंधिया, विजय शाह, अजय विश्नोई, राजेन्द्र शुक्ला, गौरीशंकर बिसेन, संजय पाठक, पारस जैन, जगदीश देवडा, विश्वास सारंग, हरिशंकर खटीक, मीना सिंह, प्रदीप लारिया, अरविंद भदौरिया, ओम प्रकाश सकलेचा, बृजेन्द्र प्रताप सिंह, रमेश मेंदोला, जालम सिंह पटेल, मालिनी गौड़, गोपीलाल जाटव, नीना वर्मा, कुंवर सिंह टेकाम, यशपाल सिंह सिसोदिया, केदार शुक्ला, रामोलावन पटेल, मोहन यादव, पंचूलाल, दिव्यराज सिंह आदि को मौका मिल सकता है। यदि पार्टी में पचहार साल की उम्र का फार्मूला लागू नहीं हुआ तो नागेन्द्र सिंह नागौद या नागेन्द्र सिंह गुढ़ को मौका मिल सकता है। ऐसी स्थिति में कुछ युवा विधायकों के नाम कट सकते हैं।

सिंधिया समर्थकों को भी मौका….

सिंधिया समर्थक पूर्व विधायकों को भी मंत्रिमंडल में मौका मिल सकता है। बिसाहूलाल सिंह, गोविन्द सिंह राजपूत, डा.प्रभुराम चौधरी, इमरती देवी, महेन्द्र सिंह सिसोदिया, प्रद्युम्न सिंह तोमर, एदल सिंह कंसाना और हरदीप सिंह डंग को भी मंत्रिमंडल में मौका मिलेगा है। भाजपा को समर्थन देने वाले रामबाई परिहार, संजीव सिंह, राजेश शुक्ला, प्रदीप जायसवाल को लेकर अभी संशय की स्थिति है।

डा. सीताशरण शर्मा बनेंगे विधानसभा अध्यक्ष!

एक बार फिर वरिष्ठ भाजपा नेता डा. सीताशरण शर्मा को विधानसभा अध्यक्ष बनाया जा सकता है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के विश्वसनीय डा. शर्मा ने वर्ष 2013 से 2018 तक विधानसभा का बहुत ही संजीदा तरीके से संचालन किया था। डा. शर्मा के अलावा सीधी के वरिष्ठ विधायक केदार शुक्ला भी विधानसभा अध्यक्ष के प्रमुख दावेदार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here