फीस वसूली के लिए परिजनों पर दबाव बना रहा स्कूल

0
3

सालाना फीस वसूली के लिए नजमी स्कूल प्रबंधन ने इजाद किया ऑनलाइन टेस्ट का फार्मूला

amjad khan
शाजापुर। निजी स्कूलों के द्वारा अब विद्यार्थियों के परिजनों से वर्षभर की स्कूल फीस वसूल करने के लिए ऑनलाइन टेस्टिंग का फार्मूला इजाद किया गया है, और इस फार्मूले के माध्यम से प्रबंधन द्वारा एक बार फिर फीस वसूली को लेकर अभिभावकों पर दबाव बनाना शुरू कर दिया गया है। जबकि नियमानुसार स्कूल फीस की वसूली नही की जा सकती है। उल्लेखनीय है कि कोरोना संक्रमण के चलते समस्त स्कूलों में कक्षाओं के संचालन पर पूरी तरह से रोक है, और स्कूलों के बंद होने के कारण वर्षभर की फीस वसूल करना भी मना है, लेकिन शाजापुर के गिरवर स्थित नजमी स्कूल प्रबंधन द्वारा कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों से सालभर की फीस मांगी जा रही है। वहीं परिजनों पर दबाव बनाने के लिए प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन टेस्ट के लिए टाईम टेबल भी जारी कर दिया गया है।

परिजनों ने नाम नही छापने की शर्त पर बताया कि कोरोना महामारी के कारण बच्चों की पढ़ाई नही हुई है, परंतु इसके बाद भी नजमी स्कूल द्वारा 19 तारीख से परीक्षा लिए जाने का टाईम टेबल जारी किया गया है। इतना ही नही प्रबंधन द्वारा धमकी दी जा रही है कि यदि पूरे साल की फीस जमा नही की गई तो बच्चों को परीक्षा में शामिल नही किया जाएगा। स्कूल प्रबंधन के इस फैसले के बाद से परिजन सकते में हैं, क्योंकि यदि फीस जमा नही की गई तो प्रबंधन द्वारा बच्चों का भविष्य दाव पर लगाए जाने की बात कही जा रही है।

नही वसूल सकते फीस
यदि नियमों की बात करें तो कोरोना महामारी के कारण बच्चों की शिक्षा प्रभावित ना हो इसको लेकर विद्यालय द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई कराई जा सकती है, लेकिन इस पढ़ाई के नाम पर विद्यार्थियों से वर्षभर की फीस वसूल नही की जा सकती। शिक्षा विभाग के अनुसार बच्चों को ऑनलाइन शिक्षा देने के साथ ही स्कूल प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन टेस्ट भी कराया जा सकता है, परंतु इसके नाम पर पूरे साल की फीस मांगना नियम विरूद्ध है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि निजी स्कूल प्रबंधनों द्वारा इस तरह का कृत्य किए जाने संबंधित शिकायत मिलत है तो इसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इनका कहना है
कोविड 19 के कारण स्कूल बंद हैं, ऐसे में यदि कोई स्कूल प्रबंधन ऑनलाइन पढ़ाई या परीक्षा के नाम पर पूरे साल की फीस मांगता है तो यह गलत है। मामले में शिकायत मिलने पर संबंधित स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
-यूयू भिड़े, जिला शिक्षा अधिकारी शाजापुर।

हमने टाईम टेबल जारी नही किया
हमने ऑनलाइन परीक्षा के लिए कोई टाईम टेबल जारी नही किया है, और ना ही विद्यार्थियों से वर्षभर की फीस मांगी है। इस मामले में यदि आपको को ज्यादा जानकारी चाहिए तो स्कूल आकर चर्चा करें।
-फातेमा जाकिर, प्राचार्य, नजमी स्कूल गिरवर।