प्रधानमन्त्री आवास योजना में धांधली, कलेक्टर कार्यालय पहुंचे ग्रामीण

0
3

amjad khan
शाजापुर। ग्राम सेवक और सचिव पर प्रधानमंत्री आवास योजना में जमकर धांधली किए जाने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने कलेक्टर कार्यालय पहुुंचकर शिकायत दर्ज कराई है। गुरुवार को ग्राम पंचायत सुनेरा के दर्जनों ग्रामीण कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और शिकायती आवेदन सौंपकर बताया कि पंचायत सचिव और ग्राम सेवक ने मिलीभगत कर पात्र हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना से वंचित कर दिया है, जबकि अपात्रों को रुपया लेकर योजना का लाभ दिलाया गया है। ग्रामीणों ने बताया कि सचिव और ग्राम सेवक प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ देने के लिए रुपयों की मांग करते हैं, ऐसे में जिन लोगों ने रिश्वत नही दी है उन्हे योजना में अपात्र घोषित करते हुए सूची से बाहर कर दिया गया है। वहीं रिश्वत देने वाले अपात्र लोगों का सूची में नाम शामिल किया गया है। ग्रामीणों ने सचिव और ग्राम सेवक को हटाने की मांग करते हुए पात्र हितग्राहियों को योजना का लाभ दिलाए जाने की मांग की है।

रुपया नही तो पात्र नही
कलेक्टर कार्यालय शिकायत लेकर पहुंचे सुनेरा पंचायत के ग्रामीणों ने बताया कि सचिव और ग्राम सेवक जमकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना में जो लोग रिश्वत दे रहे हैं उन्हे पात्र और जो रुपया नही दे रहे हैं उन्हे अपात्र घोषित किया जा रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि सचिव और ग्राम सेवक का कहना है कि रुपया नही तो पात्र नही। ग्रामीणों ने बताया कि गांव में जिन लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिया गया है उनकी जांच कराई जाए और सचिव-ग्राम सेवक के खिलाफ कार्रवाई की जाए। शिकायत करते समय राजेंद्र चौखुटिया, रामप्रसाद, कन्हैयालाल, राधेश्याम, मुकेश, संतोषबाई, अनोखीलाल आदि मौजूद थे।