रास्ते पर रखी गुमटियों को हटाकर व्यवस्थित करें: कलेक्टर

0
3

ग्राम पंचायतें गुमटीधारियों को व्यवसाय के लिए स्थान उपलब्ध कराएं

amjad khan
शाजापुर। राजस्व अभियान 2020 के तहत गुरुवार को पनवाड़ी एवं मोमन बड़ोदिया में लगाए गए शिविरों का कलेक्टर दिनेश जैन ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने ग्रामों का भ्रमण किया। इस दौरान कलेक्टर ने ग्राम पंचायतों के सरपंचों से कहा कि गुमटियां एवं ठेला गाड़ी लगाकर मार्ग अवरूद्ध करने वालों को व्यवसाय के लिए अलग स्थान उपलब्ध कराएं। ग्रामों में शासकीय भूमि पर अतिक्रमण नहीं होने दें।

बाजारों में दुकान के सामने सडक़ पर सामान रखकर व्यवसाय करने वालों को भी अपने क्षेत्र में व्यवसाय करने के लिए निर्देशित करें। जितने भी गुमटीधारी हैं, उनके लिए स्थान चिंहित कर व्यवसाय के लिए उपलब्ध कराएं। ग्राम पनवाड़ी में कलेक्टर ने सरपंच ओमप्रकाश पाटीदार से कहा कि ग्राम पंचायत भवन के पास स्थित खंडहरनुमा भवन को हटाएं। बिना मास्क लगाए घूमने वालों को समझाइश दें, नहीं मानने पर चालान बनाएं। ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध कब्जों को हटाएं। व्यवसायियों को जितनी भूमि आवंटित है उतने में ही व्यवसाय करने के लिए कहें। सार्वजनिक रास्तों को खुला रखें। इस दौरान कलेक्टर ने सरपंच से कहा कि ग्राम में प्याज उत्पादक किसानों के लिए सामूहिक गोडाउन बनाने के लिए प्रस्ताव तैयार करें। सामूहिक गोडाउन बनने से छोटे-छोटे किसानों को भी लाभ मिलेगा, इसके लिए सरपंच प्रमुख प्याज उत्पादक किसानों की सूची तैयार करें। कलेक्टर ने सरपंच से कहा कि ग्राम में यदि किसी किसान की पड़त भूमि है तो वह अपनी जमीन पर सोलर पैनल लगवा सकता है। सोलर पैनल लगाने पर उसे पैनल लगाने वाले किराया देंगे या उत्पादित बिजली के विक्रय से होने वाली आमदनी का हिस्सा देंगे। ग्राम पंचायत मोमन बड़ोदिया के निरीक्षण में कलेक्टर ने बीच सडक़ पर खड़े होने वाले वाहनों के लिए पार्किंग स्थल नियत करने के लिए कहा। ग्राम में व्याप्त गंदगी को देखकर कलेक्टर ने सरपंच जगदीश पाटीदार से कहा कि ग्राम में नियमित रूप से साफ-सफाई कराएं। व्यवसायियों द्वारा शासकीय भूमि पर रखे गए सामानों को हटवाएं अन्यथा जब्ती की कार्रवाई करें। ग्राम के मुख्य मार्ग पर लगी अस्त-व्यस्त गुमटियों को व्यवस्थित करने के निर्देश दिए। इस मौके पर कलेक्टर ने शासकीय उत्कृष्ट उमावि का भी निरीक्षण किया। उन्होने जीर्ण-शीर्ण संरचनाओं को राईटआफ कर तोडऩे के लिए कहा। कलेक्टर ने पूरे विद्यालय का निरीक्षण कर रिक्त पड़े कक्षों में भी कक्षाएं संचालित करने के निर्देश दिए।

फीवर क्लिनिक का निरीक्षण
कलेक्टर ने मोमन बड़ोदिया के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में संचालित फीवर क्लिनिक का निरीक्षण किया। इसके उपरांत स्वास्थ्य केन्द्र का भी कलेक्टर ने निरीक्षण किया। कलेक्टर ने कहा कि फीवर क्लिनिक में प्रतिदिन 15 से 20 सेम्पल एकत्रित करें, जो भी व्यक्ति सेम्पल देकर जांच करवाना चाहे तो उसे मना नहीं करें। उपस्थित चिकित्सक डॉ अनुराजसिंह ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की गतिविधियों की जानकारी दी। कलेक्टर ने अस्पताल के वार्डों का निरीक्षण किया, यहां एक मरीज की कुपोषित बच्ची के उपचार के लिए चिकित्सक को निर्देश दिए। अस्पताल में होने वाले प्रसव की भी जानकारी कलेक्टर ने ली। चिकित्सक ने बताया कि अस्पताल में 80 से 90 प्रसव प्रतिमाह होते हैं।