बुजुर्ग,दिव्यांग और कोरोना पीडि़त मतदाताओं के लिए घर चलकर आएगा मतदान केंद्र

0
3

भोपाल। बुजुर्ग,दिव्यांग और कोरोना पीडि़त मतदाताओं के घर पर पहली बार मतदान केंद्र आएगा। यह मोबाइल पोलिंग टीम होगी, जो ऐसे मतदाताओं के घर जाकर बाकायदा फोल्डिंग टेबल पर कंपार्टमेंट बनाएगी। इसके बाद यहीं पर पोस्टल बैलेट से मतदान कराया जाएगा। पोलिंग मोबाइल यूनिट के माध्यम से यह कार्य संभव होगा। 13 अक्टूबर तक बुजुर्ग-दिव्यांग की श्रेणी में आने वाले आठ हजार से ज्यादा ऐसे मतदाता और कोविड पीडि़तों को पोस्टल बैलेट के लिए प्रपत्र भरवाए जा रहे हैं। खास बात यह कि इस श्रेणी के मतदाता अगर खुद मतदान केंद्र में आकर मतदान करना चाहते हैं तो वह आ सकते हैं। आयोग की ओर से ऐसे मतदाताओं के लिए वाहन व्यवस्था भी किए जाने के निर्देश गए हैं। घरों पर पोस्टल बैलेट से होने वाला मतदान की वीडियोग्राफी होगी।

ज्ञात हो कि कोरोना संक्रमण के दौर में चुनाव कराए जा रहे हैं। इसलिए उपचुनाव-2020 पर कोरोना संक्रमण का प्रभाव रहेगा और चुनाव में कोरोना के प्रोटोकॉल का विशेष ध्यान रखा जाएगा। इसी वजह से चुनाव आयोग ने बुजुर्ग,दिव्यांग और कोरोना पीडि़त मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट की घर बैठे मतदान की सुविधा दी है। इसके लिए 13 अक्टूबर तक पोस्टल बैलेट के प्रपत्र भरवाने का जिम्मा बीएलओ को दिया गया है। इलेक्ट्रोनिकली ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट की शुरुआत होते ही इन श्रेणियों के मतदाताओं का भी पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान शुरू करा दिया जाएगा।

20 घरों में एक यूनिट कराएगी मतदान
एक मोबाइल पोलिंग यूनिट एक दिन में 20 घरों में मतदान कराएगी। इसके लिए रिटर्निंग ऑफिसर से फॉर्म-12 डी में आवेदन मिलने के बाद कार्ययोजना अनुसार पोस्टल बैलेट डलवाए जाएंगे। घर में मतदान कराने के लिए एक फोल्डिंग टेबल, वोटिंग कंपार्टमेंट ,स्टाम्प पैड,मतदान दल के लिए वाहन व्यवस्था,कोविड बचाव के सभी प्रबंध व पोस्टल बैलेट के लिए आवश्यक सामग्री उपलब्ध रहेगी।

बीएलओ जाएगा पर घर में नहीं घुसेगा
पोस्टल बैलेट के लिए मोबाइल पोलिंग टीम के साथ बीएलओ भी मतदाता का घर दिखाने जाएगा, लेकिन मतदान दल के साथ घर के अंदर दाखिल नहीं होगा। बीएलओ घर- घर जाकर 12डी फॉर्म दे रहे हैं, जिसमें रिटर्निंग ऑफिसर का पता लिखा होगा। यदि बीएलओ को मतदाता घर पर नहीं मिलता है तो वह अपना मोबाइल नंबर घर पर फॉर्म के साथ दर्ज कराकर जाएंगे। उन्हें फोन करके मतदाता भरा फॉर्म ले जाने के लिए कॉल कर सकता है।