गौशाला का संचालन मजदूर बनकर नहीं, मालिक बनकर करें: संभागायुक्त

0
3

amjad khan
शाजापुर। स्वसहायता समूह के सदस्य गौशाला का संचालन मजदूर बनकर नही, मालिक बनकर करें। यह बात उज्जैन संभागायुक्त आनंद शर्मा ने गतदिनों शाजापुर जिले के ग्राम आक्या में राज्य आजीविका मिशन के मां शारदा स्वसहायता समूह द्वारा संचालित गौशाला के निरीक्षण के दौरान कही।

संभागायुक्त ने कहा कि गौशाला का संचालन इस तरह से करें कि इस पर होने वाले सभी खर्चों एवं आवश्यकताओं की पूर्ति गौशाला से ही हो जाए। इसके लिए स्वसहायता समूहों के सदस्य गौशाला में गायों के रखरखाव के साथ-साथ दुग्ध उत्पादन, फिनाईल निर्माण, गौबर की लकडिय़ों का निर्माण करें। साथ ही अन्य गतिविधियां भी गौशाला से संचालित कर सकते हैं। अन्य गतिविधियों में चारागाह की भूमि का समुचित उपयोग, सिलाई का कार्य, मास्क बनाने का कार्य आदि भी गौशाला के शेड के नीचे संपन्न कर सकते हैं। उन्होने समूहों को और सशक्त बनाने के लिए प्रशिक्षण दिलवाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इस अवसर पर कलेक्टर दिनेश जैन सहित राज्य आजीविका मिशन के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

संभागायुक्त ने किया कलेक्टर कार्यालय का निरीक्षण
शाजापुर। उज्जैन संभागायुक्त आनंद शर्मा ने शाजापुर में कलेक्टर कार्यालय, तहसील कार्यालय तथा अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय का निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर दिनेश जैन भी मौजूद थे। संभागायुक्त ने सर्वप्रथम तहसील कार्यालय का निरीक्षण करते हुए प्रत्येक शाखाओं में जाकर कार्यों को देखा।

शाखा प्रभारियों से उनकी अलमारी खुलवाकर फाईलों का मुआयना किया तथा अनावश्यक फाईलों को रिकार्ड रूम में जमा कराने के निर्देश दिए। रिकार्ड शाखा में रखे पुराने बस्तों के भी उचित व्यवस्थापन करने के निर्देश प्रभारी तहसीलदार डॉ मुन्ना अड़ को दिए। शिकायत शाखा में मुख्यमंत्री परिवार सहायता योजना का लाभ नही मिलने की सीएम हेल्पलाइन से प्राप्त शिकायत के निराकरण की समीक्षा संभागायुक्त ने की। शाखा प्रभारी लिपिक द्वारा सही जवाब नही देने पर संभागायुक्त ने दो वेतन वृद्धियां रोकने के निर्देश दिए। इसी तरह अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के कार्यालय का भी संभागायुक्त ने निरीक्षण किया। यहां भी उन्होने रीडर से अलमारी खुलवाकर पुरानी फाईलों को देखा। इसके उपरांत उन्होने कलेक्टर कार्यालय की विभिन्न शाखाओं में जाकर निरीक्षण किया। साथ ही संभागायुक्त ने भू-अभिलेख, निर्वाचन, महिला एवं बाल विकास, जिला पंचायत का रोस्टर निरीक्षण कर ली और आपत्तियों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिए।