एक दिन की नागपुरी दुल्हन पुलिस के कब्जे में

0
3

खुद युवती को याद नहीं कि अब तक कितने युवकों से शादी कर चुना लगाया उसने

brijesh parmar
उज्जैन। यूँ तो सनातन धर्म में विवाह को बहुत ही पवित्र रिश्ता माना गया है । विवाह बंधन में बंधने वाली हरेक दुल्हन की चाहत रहती है कि पति के साथ उसका जन्म जन्म का साथ रहे। उज्जैन पुलिस ने एक ऐसी दुल्हन को पकड़ा है जो शादी के बाद अपने पति के साथ केवल एक दिन ही रहती है। शुक्रवार को उज्जैन पुलिस ने इस एक दिन की नागपुरी दुल्हन का खुलासा किया।

उज्जैन पुलिस की गिरफ्त में आई एक दिन की दुल्हन यूँ तो अभी तक न जाने कितने युवकों के साथ शादी कर चुकी है। पर एक दिन से ज्यादा ये अपने किसी भी पति के साथ नहीं रही। दरअसल शादी कर जैसे ही ये पति के घर आती है ये पति और उसके परिवार वालों को गुमराह कर गायब हो जाती है। लेकिन इस बार ये पकड़ा गई।

उज्जैन की नानाखेड़ा पुलिस द्वारा गिरफ्तार की गई एक दिन की दुल्हन का नाम है आशा शिंदे, ये महाराष्ट्र के नागपुर की रहने वाली है। बात करीब 9 महीने पहले की है। उज्जैन के नानाखेड़ा थाने के अंबेडकर नगर में रहने वाली कमलाबाई अपने बेटे चंद्रशेखर की शादी नहीं होने को लेकर परेशान थी। ऐसे में उसने अपने पड़ोस में रहने वाले चंदन नागर नामक युवक से संपर्क किया तो उसने 80 हजार रुपये लेकर उसके बेटे की शादी करवाने की बात कही और कमलाबाई के बेटे चंद्रशेखर की शादी युवती आशा शिंदे से करवा दी लेकिन शादी वाली रात ही एक दिन की नागपुरी दुल्हन आशा चंद्रशेखर और उसके परिवार को गुमराह कर गायब हो गई तभी से चंद्रशेखर इसकी तलाश कर रहा था। इसी बीच करीब 9 महीने बाद जब एक अन्य युवक के साथ आशा नजर आई तो चंद्रशेखर ने इसे पहचान लिया ,और पुलिस को सूचना दी। इस पर पुलिस ने तस्दीक कर एक दिन की दुल्हन आशा और इसके मौजूदा पति को गिरफ्तार कर लिया।

नानाखेड़ा थाने के जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर तरुण कुरील के मुताबिक पकड़ाई युवती के मोबाइल में उसके कई युवकों के साथ दुल्हन के रूप में फोटो और वीडियो है। पूछताछ में वह उन सबको अपना पहला, दूसरा,तीसरा, चौथा और पांचवा पति पता रही है। युवती को खुद याद नहीं है कि उसने अब तक चूना लगाने वाली शादियां की हैं। उसका और उसके मौजूदा पति का रिमांड लिया जा रहा है। उनसे और पूछताछ की जाएगी और ये पता लगाया जाएगा कि अभी तक उसने ऐसे कितने लोगों को शादी के नाम पर झांसा दिया और एक दिन की दुल्हन बनकर ठगी की है। चंदन नागर की भी तलाश की जा रही है जिसने उज्जैन में 80 हजार रुपये लेकर फरियादी चंद्रशेखर की शादी करवाई थी।