दो अक्टूबर से नहीं हो सकेगा सहकारी संस्थाओं का आफलाइन पंजीयन

0
6

भोपाल, गांधी जयंती दो अक्टूबर से प्रदेश में सहकारी संस्थाओं का आॅफलाईन पंजीयन  नहीं हो सकेगा। अब केवल आॅनलाईन पंजीयन ही हो सकेंगे। विभाग ने इसके लिए आदेश जारी कर दिए है। वहीं लाडो दीनदयाल अंत्योदय बहुउद्देशीय सहकारी संस्था प्रदेश की पहली ऐसी संस्था बन गई है जिसने आॅनलाईन पंजीयन कराया है।  प्रदेश में सहकारी संस्थाओं का पंजीयन, नवीनीकरण और संशोधन अब सबकु छ आॅनलाईन होगा।  इसके  लिए विभागीय पोर्टल आईसीएमआईएस (एकीकृत सहकारी प्रबंधन सूचना प्रणाली) पर लिंक के जरिए आवेदन किया जा सकेगा।

मध्यप्रदेश सहकारी सोसायटी अधिनियम के प्रावधानों के अंतर्गत सहकारी संस्थाओं के पंजीयन हेतु कार्यालय में आवेदन प्राप्त होंने पर पंजीयन की सभी कार्यवाही पूर्ण कर पंजीयन किया जाएगा। अब सहकारी संस्थाओं के पंजीयन की सेवा लोक सेवा गारंटी अधिनियम में शामिल की गई है। इसके तहत किसी भी सहकारी संस्था का पंजीयन आॅनलाइन प्रक्रिया से तथा आवेदन प्राप्त होने की तिथि से 45 दिन की समयसीमा के अंदर किया जाएगा। इसके लिए मध्यप्रदेश सहकारी सोसायटी नियमों में संशोधन कर दिया गया है।

सहकारी संस्थाओं का पंजीयन कराने के इच्छुक व्यक्ति सभी आवश्यक दस्तावेज आवेदन के साथ आॅनलाईन जमा कर सकेंगे। आवेदन में किसी कमी पर आॅनलाईन ही आवेदक को सूचित किया जाएगा। इसकी प्रतिपूर्ति आॅनलाईन ही करना होगा। आवेदक अपने आवेदन की ट्रेकिंग भी आॅनलाईन कर सकेंगे। इससे उन्हें पता चल सकेगा कि आॅनलाईन पंजीयन की प्रक्रिया कहां तक पहुंची है।  सारे दस्तावेज और अन्य प्रक्रियाएं पूरी करने के बाद पंजीयन का प्रमाणपत्र भी आवेदक को आॅनलाईन ही दिया जाएगा। दो अक्टूबर के पहले आॅफलाईन पंजीयन कराए जा सकेंगे इसके बाद केवल आॅनलाईन पंजीयन का ही विकल्प रहेगा।

बड़वाह गांव तहसील गोगावा की लाडो दीनदयाल अंत्योदय बहुउद्देशीय सहकारी संस्था प्रदेश की पहली आॅनलाईन पंजीयन काने वाली संस्था बन गई है। खरगौन जिले के उप पंजीयक सहकारिता ने इस संस्था का आॅनलाईन पंजीयन कराया है। बहुप्रयोजन सोसायटी के रुप में इस संस्था का पंजीयन किया गया है। संस्था प्राथमिक सहकारी संस्था के रूप में पंजीकृत की गई है।