वन्य प्राणी की सुरक्षा के लिए सक्रिय भूमिका निभाने की जरूरत: वनमंत्री

0
3

भोपाल, वनमंत्री कुंवर विजय शाह ने कहा है कि वन्य प्राणी प्रकृति की अनुपम देन हैं, ऐसे निरीह मूक प्राणियों की सुरक्षा एवं संरक्षण की दिशा में प्रत्येक नागरिक को सक्रिय भूमिका निभाने की जरूरत है। वन्य प्राणियों के प्रति संवेदनशीलता और दया भावना का जज्बा बढ़ाने से ही वन्य जीवन को सुरक्षित करने के साथ ही पर्यावरण का समुचित संवर्धन कर पायेंगे। वनमंत्री वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में राज्य स्तरीय वन्य प्राणी सप्ताह 2020 के समापन समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

वनमंत्री शाह ने कहा कि वन्य जीवन के प्रति गहरी रूचि और अपनत्व की भावना विकसित करने के लिए सक्रिय जन-भागीदारी की आवश्यकता है। इससे आने वाली पीढ़ी को सुरक्षित वन और पर्यावरण का अच्छा वातावरण देने में कामयाब हो सकेंगे। उन्होंने कहा कि देवी-देवताओं ने वन्य प्राणी को अपने साथ रखा है, यह इस बात का द्योतक है कि वन्य प्राणियों को हमारे आराध्य देवी-देवताओं ने भी प्रमुख स्थान दिया है।

मंत्री शाह ने कहा कि वन्य प्राणियों के प्रति अज्ञान और अंधविश्वास की वजह से वन्य प्राणियों के संरक्षण कार्यक्रम में बाधक की स्थिति निर्मित होती है। उन्होंने कहा कि विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर के शैक्षणिक पाठ्यक्रमों में वन्य जीवन एवं वन्य प्राणियों के संरक्षण विषय को अनिवार्य किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वन्य प्राणी सप्ताह समापन के मौके पर बच्चों से लेकर युवा वर्ग के प्रतिभागियों ने अपने चेहरे पर वन्य प्राणी की फेस पेंटिग कर उनके प्रति प्रेम और गहरे लगाव का उदाहरण प्रस्तुत किया है।

प्रतियोगिताओं के विजेता हुए पुरस्कृत

वनमंत्री शाह ने राज्य स्तरीय वन्य प्राणी सप्ताह के दरम्यान हुए विभिन्न प्रतियोगिताओं मुख्यरूप से चित्रकला, फोटो ग्राफी, रंगोली, मेंहदी, पॉम पेंटिंग, सृजनात्मक प्रतियोगिता और फेस पेंटिंग प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विजेताओं को पुरस्कृत किया।

वन्य प्राणी संरक्षण पुरस्कार से नवाज गए अधिकारी – कर्मचारी

वनमंत्री ने वन विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों को वन्य प्राणी संरक्षण पुरस्कार 2019 एवं 2020 के पुरस्कार वितरित किये। इसमें 2019 के लिए 7 विभिन्न श्रेणी के अधिकारी एवं कर्मचारी और 2020 के लिए 8 विभिन्न श्रेणी के अधिकारी-कर्मचारियों को पुरस्कृत किया।

2019 के पुरस्कार से सम्मानित

वन विहार राष्ट्रीय उद्यान भोपाल के सहायक संचालक ए.के.जैन, छिन्दवाड़ा वनवृत्त के वन क्षेत्रपाल अमित सोनी, म.प्र. राज्य वन विकास निगम के गोविन्द वासनिक, रीवा वनवृत्त के उप वनक्षेत्र पाल दिग्विजय सिंह, उज्जैन वनवृत्त के वनरक्षक जितेन्द्र सिंह पवार, टाईगर स्ट्राईक फोर्स भोपाल के वन रक्षक उमंग वर्मा, इंदौर वनवृत्त वनरक्षक प्रवीण मीणा, कान्हा टाईगर रिजर्व मण्डला के पशु चिकित्सक डॉ. संदीप अग्रवाल एवं टाईगर स्ट्राईक फोर्स होशंगाबाद के डॉग हैण्डलर शिवराम उइके को 50-50 हजार रूपये का चैक एवं प्रशस्ति-पत्र दिये गये। इसके अलावा सतपुड़ा टाईगर रिजर्व के सहायक वन संरक्षक संदेश माहेश्वरी एवं उनके दल में शामिल 8 उप वन क्षेत्रपाल और वन रक्षकों को प्रत्येक को 11 हजार 111 रूपये की राशि और प्रशस्ति पत्र दिये गये।

2020 के पुरस्कार से सम्मानित

वर्ष 2020 के लिए वन्य प्राणी संरक्षण पुरस्कार उप वन संरक्षक रजनीश कुमार सिंह, सतपुड़ा टाईगर रिजर्व होशंगाबाद के सहायक वन संरक्षक संजीव कुमार शर्मा, टाईगर स्ट्राईक फोर्स भोपाल के वन क्षेत्रपाल इंदर सिंह बारे, वनवृत्त भोपाल के वनपाल प्रमोद कुमार मालवीय, पेंच टाईगर रिजर्व के वन रक्षक भूपेन्द्र राजपूत, बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व उमरिया वनरक्षक कमलेश कुमार नंदा, वनवृत्त छतरपुर के वनरक्षक रामेश्वर मिश्रा, पेंच टाईगर रिजर्व सिवनी के वन्य प्राणी पशु चिकित्सक डॉ. अखिलेश मिश्रा, कान्हा टाईगर रिजर्व मण्डला के स्थायी कर्मी मनोजकुमार मिश्रा, वनवृत्त होशंगाबाद के स्थाई कर्मी कमलेश कहार को 50-50 हजार रूपये की राशि और प्रशस्ति पत्र से नवाजा गया। इसके अलावा टाईगर स्ट्राईक फोर्स इंदौर की उपवन संरक्षक श्रीमती प्रतिभा अहिरवार सहित उनके दल के 9 सदस्यों को 10-10 हजार रूपये और प्रशस्ति पत्र देकर पुरस्कृत किया गया।

डॉ. गुप्ता को किया गया सम्मानित

वनमंत्री ने वन विहार राष्ट्रीय उद्यान भोपाल के वन्य प्राणी चिकित्सक डॉ. अतुल गुप्ता को केन्द्रीय चिड़िया घर नई दिल्ली द्वारा पूर्व सीटू संरक्षण के लिए उन्हें प्राणी मित्र अवार्ड मिलने पर सम्मानित किया।

वनमंत्री कुंवर विजय शाह ने वल्चर एस्टीमेशन 2019 की रिपोर्ट का विमोचन भी किया। वनमंत्री ने वन्य प्राणी संरक्षण की सभी को शपथ दिलाई और वन विहार के 9 स्थाई कर्मियों को जैकेट भी प्रदान की।

प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) आलोक कुमार ने राज्य स्तरीय वन्य प्राणी सप्ताह के दरम्यान हुए विभिन्न कार्य्रक्रमों और प्रतियोगिताओं का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। वन विहार राष्ट्रीय उद्यान संचालक कोमलिका मोहंता ने आभार व्यक्त किया।

इस मौके पर टिमरनी विधायक संजय शाह, प्रमुख सचिव वन अशोक वर्णवाल, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख राजेश श्रीवास्तव सहित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी और प्रतिभागी मौजूद थे।