MP: दमोह में हार पर नरोत्तम बोले— हम हारे अपने घर के जयचंदों से

0
13

भोपाल। पांच राज्यों के साथ मध्यप्रदेश की दमोह में हुए विधानसभा उपचुनाव में भी बीजेपी को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है। यहां कांग्रेस से पाला बदलकर बीजेपी में आए पार्टी प्रत्याशी को कांग्रेस के हाथों हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में यहां बीजेपी को कड़ा सदमा लगा है। पार्टी की हार के बाद प्रत्याशी राहुल सिंह ने बीजेपी के बड़े नेताओं पर भितरघात और साजिश को जिम्मेदार बताया है। राहुल ने पूर्व मंत्री जयंत मलैया पर गंभीर आरोप लगाया है। अब शिवराज सरकार में कबीना मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बचाव करते हुए बड़ा बयान दिया है। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हम छले गए हैं छलचंदों से। वहीं केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने भी हार के पीछे साजिश की ओर इशारा किया है।

दरअसल, दमोह उपचुनाव में पार्टी की पराजय के बाद बीजेपी प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने भी भितरघात को अपनी हार की वजह बताया था। यहां कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने भाजपा के राहुल सिंह लोधी को 17,097 वोटों से हराया है। हालांकि, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने इस हार पर मंधन के लिए कहा है। इधर, सोमवार को गृहमंत्री मिश्रा से दमोह उपचुनाव में हार के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होने कहा कि दमोह नहीं हारे हैं हम, छले गए छलछन्दों से। इस बार लड़ाई हारे हैं हम, अपने घर के जयचंदों से। हालांकि, उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन माना जा रहा है कि उनका निशाना दमोह में पार्टी के बड़े स्थानीय नेताओं की तरफ है, जिन पर दमोह जिताने की जिम्मेदारी थी, जबकि भाजपा उनके अपने ही वार्ड में हार गई, ऐसा नहीं है कि अकेले नरोत्तम मिश्रा ही हार के लिए भितरघात को जिम्मेदार बता रहे हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय राज्यमंत्री प्रह्लाद पटेल ने भी दमोह उपचुनाव में हार के लिए षणयंत्र को वजह बताया है। प्रह्लाद सिंह पटेल ने ट्वीट कर लिखा कि दमोह चुनाव परिणाम ने भविष्य की चुनौतियों, षड्यंत्रों और कार्यप्रणाली में सुधार के स्पष्ट संकेत दिए हैं। हम सभी कार्यकर्ता अपनी परिश्रम की मूल सामर्थ्य और विद्वेष रहित कार्यप्रणाली से इनका समाधान खोजेंगे। भारतीय जनता पार्टी को मतदान और सहयोग करने वाले सभी दमोह वासियों का धन्यवाद।

MP : अब टीआई बन सकेंगे डीएसपी

पूर्व मंत्री पर बोला हमला

बीजेपी प्रत्याशी राहुल सिंह लोधी ने दमोह उपचुनाव में हारने के बाद भाजपा नेताओं पर ठीकरा फोड़ा। राहुल ने कहा कि था कि जिन नेताओं को शहर की ज़िम्मेदारी दी गई थी, वो अपना वार्ड ही नहीं जितवा पाए और पूरे शहर के सभी वार्ड हार गए। यह पूरी तरह से भितरघात की वजह से हार हुई है, जो लोग कहते थे कि पार्टी हमारी मां है और मां से गद्दारी नहीं कर सकते, उन्होंने पूरी ताकत से बेईमानी की है और ज़बरदस्त भितरघात किया है। इधर, कांग्रेस ने भी बीजेपी पर हमला बोला है। पूर्व सीएम कमलनाथ सहित अन्य पार्टी नेताओं ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमला बोलते कहा कि यह सच्चाई की जीत है। यह जीत जनता बनाम बीजेपी थी, जिसने शिवराज सरकार को आइना दिखाया है।