कियोस्क बैंक संचालक पर आदिवासी महिलाओं के 48 हजार रूपए हड़पने का मामला दर्ज

0
3

आरोपी गिरफ्तार, 48 हजार रूपए सहित एक डिवाइस, मोबाइल फोन और मोटरसाइकल जप्त

khemraj morya
शिवपुरी। शिवपुरी जिले में शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत दलित और आदिवासी वर्ग के लोगों के बैंक खातों में भेजे जाने वाली नगद राशि को धोखा देकर हड़प लेने की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने गैंग के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जिसके तारतम्य में तेंदुआ पुलिस ने ग्राम रामपुरा की आदिवासी महिला श्रीमति मीणा, श्रीमति सकरदे, श्रीमति राजवती, श्रीमति गोमती, श्रीमति कल्लो और श्रीमति सोना के बैंक खातों से कुल मिलाकर 48 हजार रूपए की राशि उड़ाने वाले कियोस्क बैंक संचालक इंद्रसेन धाकड़ निवासी ग्राम धामनटूक थाना बदरवास को गिरफ्तार कर आदिवासी महिलाओं से हड़पे गए 48 हजार रूपए भी जप्त कर लिए। इसके अलावा आरोपी से एक डिवाईस, मोबाइल फोन और मोटरसाइकल भी जप्त की गई। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया।

थाना प्रभारी तेंदुआ केएन शर्मा ने बताया कि गरीब आदिवासी वर्ग को शासन द्वारा बैंकों के माध्यम से भेजे जाने वाली राशि को हड़पने की उन्हें शिकायत मिल रही थी। इन घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए पुलिस प्रशासन ने गैंग के विरूद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिए। पुलिस टीम ने आस-पास के कस्बों के बैंक संचालकों की जानकारी एकत्रित कर इनकी आईडी खंगाली तो पता चला कि ग्राम धामनटूक थाना बदरवास के इंद्रसेन पुत्र बारेलाल धाकड़ की आईडी नम्बर 101751 से थाना तेंदुआ के ग्राम रामपुरा की गरीब आदिवासी महिला श्रीमति मीणा, श्रीमति सकरदे, श्रीमति राजवती, श्रीमति गोमती, श्रीमति कल्ली, श्रीमति सोना के बैंक खातों से 8-8 हजार रूपए की राशि निकाली गई। राशि का आहरण कर इनके अंगूठे लगवाकर इन्हें अपने खाते में पैसा नहीं आना बताया और अपने खाते में कुल 48 हजार रूपए की राशि जमा कर ली। इस पर तेंदुआ पुलिस ने आरोपी इंद्रसेन के विरूद्ध धोखाधड़ी का मामला कायम किया और जिसके तारतम्य में उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उक्त कार्रवाई में थाना प्रभारी तेंदुआ केएन शर्मा, एएसआई जगदीश भिलाला, हैड काउंस्टेबल जसरथ सिंह, आरक्षक बलवंत पाल, भग्गू भिलाला एवं लोकेंद्र झाला की महत्वपूर्ण भूमिका रही।