कमलनाथ सरकार ने दिया था गरीबों को धोखा – भीष्म द्धिवेदी

0
4
kamal-nath-government-had-cheated-the-poor-bhishma-dwivedi

कमलनाथ सरकार ने दिया था गरीबों को धोखा – भीष्म द्धिवेदी

शिवराज सरकार देगी 37 लाख व्यक्तियों को राशन

kamal-nath-government-had-cheated-the-poor-bhishma-dwivedi

Syed Javed Ali
मण्डला – भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष भीष्म द्धिवेदी ने कहा कि कांग्रेस के लिए गरीब मात्र वोट बैंक है, जबकि भारतीय जनता पार्टी के लिए गरीबों का कल्याण ही मिशन है। 15 महीने रही कमलनाथ सरकार ने गरीबों के जनकल्याण की सारी योजनाएं बंद कर दी थी। कांग्रेस ने गरीबों का शोषण किया वही भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीबों के जीवन में खुशियों के रंग भरने का काम कर रही है।आज भाजपा सरकार प्रदेश के गरीब परिवारों को अन्न उत्सव के माध्यम से राशन पर्ची का वितरण किया। यह आयोजन अभी तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम है जिसके माध्यम से 37 लाख व्यक्ति लाभान्वित होंगे।

भाजपा जिलाध्यक्ष श्री द्धिवेदी ने कहा कि श्रीमती इंदिरा गांधी ने गरीबी हटाओ का नारा दिया था, लेकिन गरीबी नहीं हटी। कांग्रेस में कई पीढ़ियां बदल गई, लेकिन गरीबी हटाओ का नारा नहीं बदला। कांग्रेस ने गरीबी हटाने के बजाए गरीबों को ही हटाने का काम किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रहते कमलनाथ ने 15 महीने इसी गरीब विरोधी मानसिकता के साथ दमनपूर्व काम किया। भाजपा सरकार ने 15 सालों में गरीबों के कल्याण के लिए जो योजना चलायी थी उसे कमलनाथ सरकार ने बंद कर दिया था। गरीबों का जीवन संवारने वाली संबल योजना को कमलनाथ सरकार ने बंद कर गरीबों को अंतिम क्षणों में मिलने वाली राहत बंद कर दी थी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में हर वर्ग से बडे बडे वादे किए थे, जनता ने उन्हें सेवा का मौका दिया, लेकिन कांग्रेस ने जनता को धोखा दिया। उन्होंने कहा कि उपचुनाव में फिर कांग्रेस जनता को भ्रमित कर रही है, लेकिन जनता कांग्रेस के इस बहकावे में नहीं आने वाली। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी गरीबों की सेवा के लिए समर्पित है। भाजपा की सरकार ने कोरोना संकटकाल के विपरीत समय में किसान, महिला एवं गरीब तबकें को राहत देने का काम किया है। रेहडी, पट्टी फुटपाथ और खोमचे लगाकर अपनी आजीविका चलाने वाले छोटे व्यापारियों को लाभ दिया। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना के 1.75 लाख हितग्राहियों को आवास की सौगात दी। 16 सितंबर को 37 लाख हितग्राहियों को राशन, पर्ची वितरण का कार्यक्रम हुआ इसके माध्यम से गरीबों की जिंदगी में खुशियों के रंग आयेंगे।