समग्र विकास के लिए कृषि को लाभ का धंधा बनाना आवश्यक

0
2
it-is-necessary-to-make-agriculture-profitable-for-overall-development

समग्र विकास के लिए कृषि को लाभ का धंधा बनाना आवश्यक

प्रधानमंत्री फसल बीमा भुगतान के तहत् जिला स्तरीय कार्यक्रम संपन्न

it-is-necessary-to-make-agriculture-profitable-for-overall-development

Syed Javed Ali
मण्डला – देश की अर्थव्यवस्था कृषि पर निर्भर रहती है, कृषि को लाभ का धंधा बनाए बिना हम समग्र विकास की कल्पना नहीं कर सकते। यह बात राज्यसभा सांसद संपतिया उईके ने गरीब कल्याण सप्ताह के अंतर्गत प्रधानमंत्री फसल बीमा भुगतान के जिला स्तरीय कार्यक्रम में कही।

राज्यसभा सांसद संपतिया उईके ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा कृषकों के लिए अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं, आवश्यकता है इन योजनाओं के माध्यम से कृषि को पूर्णकालिक व्यवसाय के रूप में विकसित करने की। अपने अनुभव साझा करते हुए श्रीमती उईके ने कहा कि धान और गेहूं के साथ-साथ मेढ़ों पर राहर, सब्जी आदि लगाकर जमीन के प्रत्येक हिस्से का योजनाबद्ध तरीके से उपयोग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कृषि के साथ मुर्गीपालन, मछलीपालन तथा पशुपालन आदि गतिविधियां भी संचालित करनी चाहिए जिनसे आय के स्त्रोत लगातार बने रहते हैं। मंडला जिले में कृषि के लिए आदर्श स्थिति है जिसके कारण दूर प्रदेशों के लोग यहां आकर खेती कर रहे हैं। अतः जिले के कृषकों को भी नई तकनीकियों के माध्यम से अपनी उपज बढ़ाना चाहिए। अपने संबोधन में उन्होंने परंपरागत और जैविक खेती को प्रोत्साहित करने की बात कही। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष सरस्वती मरावी ने कहा कि सरकार किसानों का दुख-दर्द समझते हुए उनके हित में योजनाएं बनाती हैं। किसानों पर जब भी कोई मुश्किल आती है सरकार कंधे से कंधा मिलाकर उनका साथ निभाती है।

कार्यक्रम में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने जिले में कृषि विभाग द्वारा संचालित गतिविधियों की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि किसानों को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने के लिए समन्वित खेती को प्रोत्साहित किया जाना आवश्यक है। उन्होंने किसानों से कृषि आधारित व्यवसायों से जुड़ने का आव्हान किया। कलेक्टर ने अपने संबोधन में मेढ़बंधान, खेततालाब, मछलीपालन आदि के संबंध में भी विस्तार से जानकारी देते हुए इन योजनाओं से जुड़ने की बात कही। कार्यक्रम में चिन्हित हितग्राहियों को प्रधानमंत्री फसल बीमा के अंतर्गत बीमा दावा राशि भुगतान प्रमाण पत्र तथा राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के तहत् मसूर बीज मिनी किट का वितरण किया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के संबोधन का एलईडी के माध्यम से सीधा प्रसारण किया गया।

जिला योजना भवन में संपन्न हुए इस कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष सरस्वती मरावी, उपाध्यक्ष शैलेष मिश्रा, सभापति कृषि स्थायी समिति जिला पंचायत नीरज मरकाम, कलेक्टर हर्षिका सिंह सहित संबंधित विभागों के अधिकारी, जनप्रतिनिधि तथा कृषक उपस्थित रहे।