+91-9425048589 bhavtarini.com@gmail.com
खेल

IND vs SL 3rd T20I: भारत-श्रीलंका में फाइनल भिड़ंत आज, जानें कौन किस पर भारी

41Views

 पुणे
टीम इंडिया ने पिछले साल का अंत सीरीज जीत के साथ किया था। अब साल की शुरुआत में भी एक सीरीज पर कब्जा करके 'विराट सेना' दबदबे का दौर जारी रखना चाहेगी। प्रतिभाशाली और युवा खिलाड़ियों से लैस टीम इंडिया इस समय अनुभवहीन श्रीलंका के मुकाबले हर तरह से बेहतर नजर आती है, जिसका नेतृत्व आज के दौर के बेस्ट कैप्टन विराट कोहली कर रहे हैं।

मौजूदा टी20 इंटरनैशनल सीरीज के इंदौर में हुए दूसरे मुकाबले में भारतीय टीम हर विभाग में हावी रही और मेहमान टीम कहीं से उसे टक्कर नहीं दे पाई, जबकि गुवाहाटी में पहला मैच पूरी तरह बारिश की भेंट चढ़ गया था। भारत आज पुणे के इस तीसरे और अंतिम मैच को जीतकर सीरीज को 2-0 से अपने नाम करने के लक्ष्य के साथ उतरेगा। उधर,अनुभवी कप्तान लसिथ मलिंगा की अगुआई वाली श्रीलंका की नजर मुकाबले को अपने पाले में कर सीरीज का अंत 1-1 से करने पर होगी।

कॉम्बिनेशन पर दुविधा
भारतीय टीम के सामने पसोपेश होगा कि वह जीत हासिल करने वाले टीम कॉम्बिनेशन के साथ कायम रहे या फिर संजू सैमसन और मनीष पांडे को भी मौका दे। इंदौर के एकतरफा एनकाउंटर के मद्देनजर पांडे और सैमसन को शामिल किया भी जा सकता है। पांडे ने मौजूदा सीरीज समेत पिछली तीन सीरीज में महज एक मैच खेला है। वहीं नवंबर में बांग्लादेश सीरीज में वापसी करने वाले सैमसन को अभी तक एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला है।

इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप को देखते हुए भारत टीम कॉम्बिनेशन में प्रयोग करता आ रहा है, लेकिन इन खिलाड़ियों का इम्तिहान लेना अभी बाकी है। वहीं दूसरी ओर सीनियर खिलाड़ियों की अनुपस्थिति ने शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी जैसे गेंदबाजों के लिए असर छोड़ने का मौका बना हुआ है। दोनों ने पिछले मैच में मिलकर पांच विकेट झटककर प्रभावित भी किया। हालांकि इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि टीम मैनेजमेंट सीरीज जीतने के इरादे से ही आखिरी प्लेइंग इलेवन का चयन करेगा।
 
शिखर के लिए चैलेंज

मैच में नजरें एक बार फिर से सलामी बल्लेबाज शिखर धवन पर भी टिकी होंगी जो केएल राहुल के साथ दूसरे ओपनर के पोजिशन की दौड़ में हैं। हालांकि इस समय राहुल अपने हालिया प्रदर्शन की बदौलत टी20 आगामी वर्ल्ड कप के लिए रोहित शर्मा का जोड़ीदार बनने की रेस में उनसे आगे निकल गए हैं, ऐसे में शिखर के सामने खुद को श्रेष्ठ साबित करने की बड़ी चुनौती है। दूसरी ओर, हर फॉर्मेट में भारत के स्ट्राइक तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमरा चोट से वापसी के बाद लय पकड़ने के प्रयास के साथ उतरेंगे। पिछले टी20 मैच में वह उतने असरदार नहीं दिखाई दे रहे थे, लेकिन लंबे ब्रेक के बाद वापसी करने पर ऐसा होना स्वाभाविक है। ऑस्ट्रेलिया और न्यू जीलैंड के खिलाफ आगामी श्रृंखलाओं से पहले भारत के यह मैच विनर गेंदबाज फॉर्म और फिटनेस को दोबारा उसी लेवल पर ले जाने को बेचैन होंगे, जहां से उन्हें ब्रेक लेना पड़ा था।

बैकअप है बढ़िया
भारत के लिए हालांकि अच्छी खबर यह है कि सीनियर व अनुभवी तेज गेंदबाजों की गैरमौजूदगी के बीच इंदौर में युवा तेज गेंदबाजों शार्दुल और सैनी ने प्रभावित किया। ठाकुर डेथ ओवरों में अच्छे थे तो सैनी ने अपनी रफ्तार और उछाल से श्रीलंकाई बल्लेबाजों को परेशान किया। श्रीलंकाई टीम में बाएं हाथ के कई बल्लेबाज हैं, इसीलिए स्पिनर कुलदीप यादव और वॉशिंगटन सुंदर के टीम में अपना स्थान बरकरार रखने की उम्मीद है जिसका मतलब है कि रविंद्र जाडेजा और युजवेंद्र चहल को बाहर बैठना होगा।

लंका को लगा झटका
दूसरी ओर, श्रीलंका को अगर अपने घर में खेल रही भारतीय टीम को परेशानी में डालना है तो उन्हें काफी मेहनत करनी होगी। बल्लेबाजों को अच्छी शुरुआत हासिल करने के बाद लंबी पारी खेलनी होगी जो वह दूसरे टी20 में नहीं कर सके थे। टीम के हेड कोच मिकी आर्थर अपने बल्लेबाजों के प्रदर्शन से खासे नाराज दिखे थे किसी ने भी 70-80 रनों की बड़ी पारी नहीं खेली जिसका नुकसान हुआ। इस बीच ऑलराउंडर इसुरू उदाना का चोटिल होना भी उनकी टीम के लिए करारा झटका है। उदाना इंदौर में प्रैक्टिस के दौरान चोटिल हो गए थे। इससे उनके मुख्य गेंदबाज ने इंदौर में बोलिंग नहीं की। श्रीलंकाई टीम हालांकि बल्लेबाजी विभाग में अनुभव का फायदा उठा सकती है। 16 महीने बाद टी20 में वापसी करने वाले एंजेलो मैथ्यूज को लगातार दो मैचों में नहीं चुना गया ऐसे में उन्हें आज आजमाया जा सकता है।

संभावित प्लेइंग XI
भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, वॉशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमरा, शार्दुल ठाकुर
श्रीलंका: लसिथ मलिंगा (कप्तान), दानुष्का गुणतिलका, अविष्का फर्नांडो, कुसल परेरा (विकेटकीपर), एंजेलो मैथ्यूज, भानुका राजपक्षा, धनंजय डिसिल्वा, दासुन शनाका, वानिंदु हसारंगा, कासुन रजीथा, लाहिरू कु

admin
the authoradmin