यशवंत सागर के सहयोग से गंभीर डेम ओव्हर फ्लो,12.5 मीटर गेट खोले गए

0
5

brijesh parmar
उज्जैन।पेयजल की समस्या को लेकर एक दिन छोडकर प्रदाय के निर्णय का पहला दिन था और उज्जैन के मुख्य पेयजल स्त्रोत गंभीर डेम इंदौर के यशवंत सागर डेम से छोडे गए पानी के सहयोग से ओव्हर फ्लो हो गया।स्थिति यह बन गई की देर शाम तक डेम के 6 में से 4 गेट 12.5 मीटर खोलकर 95 हजार क्यूसेक पानी प्रतिंघंटा बहाना पड़ा है।

गंभीर डेम नगर निगम पीएचई के प्रभारी राजीव शुक्ला के अनुसार शुक्रवार रात 12 बजे से पूर्व डेम में 382 एमसीएफटी पानी था। रात में ही पानी धीरे-धीरे केचमेंट एरिया की बारिश से बढना शुरू हुआ था।सुबह इंदौर के यशवंत सागर डेम से सूचना दी गई की वे अत्यधिक आवक के चलते सभी गेट खोल रहे हैं।सूचना पर गंभीर डेम का स्टाफ अलर्ट था।आवक की शुरूआत कुछ ही घंटो में गंभीर में दर्ज की गई। दोपहर 1 बजे गंभीर में कुल 1900एमसीएफटी पानी की आवक दर्ज करने के साथ एक गेट खोलकर पानी बहाने का क्रम शुरू किया गया। इसके पहले सायरन बजाया गया।शाम 6 बजे डेम में 2167 एमसीएफटी क्षमता पर 483.00 लेबल मेंटेन किया जा रहा था। इस दौरान डेम के 6 में से कुल 4 गेट खुल हुए थे। तीन गेट 4-4 मीटर खोले गए थे एवं 1 गेट आधा मीटर खोलकर पानी बहाने का क्रम अनवरत था। 1992 में उद्घाटित डेम की कुल क्षमता 2250 एमसीएफटी एवं रिड्यूस लेबल 483.35 है।

अब नहीं रहेगा जल संकट
गौरतलब है कि गंभीर डेम में पानी की कमी होने के कारण 20 अगस्त से शहर में एक दिन छोड़कर जल प्रदाय किया जाना तय किया गया था। इस पर एक बार अमल भी हो चुका था। शनिवार को गंभीर डेम में भरपूर मात्रा में पानी होने के कारण अब प्रतिदिन जल प्रदाय की संभावना प्रबल होती जा रही है। डेम में 18 घंटे के दरमियान इतना पानी आने से उज्जैन शहर की पेयजल समस्या का निदान हो गया है।

जमकर पहुंचे लोग-
गंभीर डेम के फूल होने की जानकारी लगते ही उज्जैन शहर से जमकर लोग डेम पर पहुंच गए। डेम पर जाम की स्थिति निर्मित हो गई । पुलिस को सूचना मिलने पर यहां से लोगों को देर शाम भगाने का काम किया गया। एएसपी आकाश भूरिया के अनुसार पानी रूकने पर लोग घूमने निकले और डेम पहुंचे सूचना पर पुलिस ने पहुंच कर उन्हे घरों के लिए रवाना किया है।