कोरोना संक्रमण व क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने की मांग

0
1
district-congress-submits-memorandum-regarding-corona-infection-and-quarantine-center-disturbances

कोरोना संक्रमण व क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने की मांग

जिला कांग्रेस कमेटी ने सौंपा ज्ञापन

district-congress-submits-memorandum-regarding-corona-infection-and-quarantine-center-disturbances

Syed Javed Ali
मण्डला – जिले में कोरोना संक्रमण के मामले लागातर बढ़ रहे हैं ऐसी स्तिथि में हर स्तर पर एहतियात बरतने की अत्यंत आवश्यकता है परंतु जिले में कोरोना संक्रमण की स्तिथि को लेकर सुरक्षा व बचाव के परिपेक्ष्य में लापरवाही बरते जाने की सूचनाएं लगातार मिल रही हैं, जिससे जिले के आम नागरिकों की सुरक्षा पर एक बड़ा सवाल खड़ा हो रहा है। इसी संवेदनशील मुद्दे को लेकर जिला कांग्रेस कमेटी मण्डला ने जिलाध्यक्ष एड. राकेश तिवारी के नेतृत्व में जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा है।

ज्ञापन में खा गया है कि बीते दिनों में पॉजिटिव आये मरीजों में से प्रशासन द्वारा कुछ मरीजों की कांटेक्ट हिस्ट्री की जानकारी नहीं ली गई है जबकि कुछ मरीज हाल ही में भोपाल प्रवास पर थे। अपुष्ट जानकारी के अनुसार उन्होंने वहां कोरोना पीड़ित मरीज से मुलाकात भी की थी परंतु उनके वापस आने के बाद न तो उन्हें क्वारंटाइन किया गया और न ही उनकी ट्रेवल हिस्ट्री की जानकारी ली गई। इस बीच ये मरीज अनेक लोगों के संपर्क में आये और मण्डला नगर सहित जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा इनके द्वारा बढ़ा दिया गया है। यदि ऐसा हुआ है तो यह एक गंभीर लापरवाही है जिससे जिले के आम नागरिकों की सुरक्षा प्रभावित हुई है। यह शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइंस का उल्लंघन भी है जिसके लिए संबंधितों पर आवश्यक रूप से वैधानिक कार्यवाही की जानी चाहिए।

इसी तरह पीड़ित मरीजों के घर के आसपास कंटेन्मेंट जोन बनाए जाने को लेकर भी शासन के स्पष्ट निर्देश हैं परंतु जानकारी प्राप्त हुई है कि कुछ मरीजों को वीआईपी ट्रीटमेंट देते हुए उनके घरों के सामने बनाये गए कंटेन्मेंट जोन में शासन द्वारा निर्धारित गाइडलाइंस का पालन नहीं किया गया है। इसकी जांच करवाकर कंटेन्मेंट जोन हेतु निर्धारित नियमों का पालन करवाया जाए। इसी तरह संदिग्ध मरीजों के लिए बनाए गए क्वारंटाइन सेंटरों में अव्यवस्था को लेकर लगातार शिकायतें प्राप्त हो रही हैं जिनमे बताया गया है कि क्वारंटाइन सेंटरों में साफ सफाई से लेकर संदिग्ध मरीजों की सुविधाओं का ख्याल नहीं रखा जा रहा है। मरीजों को दिया जाने वाला भोजन गुणवत्तापूर्ण नहीं है। पेयजल व बिस्तरों को लेकर भी शिकायतें की गई हैं।

अभी हाल ही में कुछ संदिग्धों के द्वारा क्वारंटाइन सेंटरों की सुविधा सही न होने के कारण एमपीटी मोटेल तिंदनी में सेल्फ क्वारंटाइन होने की जानकारी सामने आई है। जबकि एमपीटी मोटेल तिंदनी शासन द्वारा घोषित क्वारंटाइन सेंटर नहीं है और आम नागरिकों की सेवाओं के लिए निरंतर संचालित भी है। ऐसे में एमपीटी मोटेल में संदिग्धों का क्वारंटाइन होना एक गंभीर विषय है जिसकी जांच किये जाकर कार्यवाही किये जाने की मांग जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा की गई है। ज्ञापन सौंपने के दौरान जिलाध्यक्ष एड राकेश तिवारी, निवास विधायक डॉ अशोक मर्सकोले, युवक कांग्रेस लोकसभा अध्यक्ष अभिनव चौरसिया, राजेन्द्र राजपूत, सुभाष पांडे, इंद्रजीत भंडारी, कमलेश तिलगाम, हिमांशु बर्वे सहित कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही।