भारत में कोरोना से मृत्यु दर घटकर 1.85% हुई, 23 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए

0
4

नई दिल्ली, स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि देश में कोविड-19 के 23 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं। वर्तमान में जितने मरीज हैं उससे तीन गुना लोग ठीक हो चुके हैं और मृत्यु दर घटकर 1.85 प्रतिशत पर आ गयी है। मंत्रालय ने बताया कि एक दिन में 57,469 मरीजों के ठीक होने के साथ अब तक कुल 23,38,035 लोग संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। ठीक होने की दर भी 75.27 प्रतिशत हो गई है।

मंत्रालय ने रेखांकित किया है कि सघन जांच, निगरानी का दायरा बढ़ाने, संपर्क की तलाश में तेजी, प्रभावी उपचार व्यवस्था जैसी रणनीति की बदौलत यह मुमकिन हो पाया है। मंत्रालय ने कहा, ‘घर पर पृथक-वास में रह रहे मरीजों के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी की जा रही और वे तेजी से ठीक हो रहे हैं।’ वर्तमान में कुल 7,10,771 मरीज हैं, जो कि कुल संक्रमितों का महज 22.88 प्रतिशत है ।

मंत्रालय ने कहा, ‘आईसीयू में भर्ती मरीजों का प्रभावी उपचार किया जा रहा है । इससे मृत्यु दर घटी है और अब यह 1.85 प्रतिशत पर आ गयी है।’ स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ सक्रिय भागीदारी के जरिए एम्स, नई दिल्ली द्वारा कोविड-19 मामलों के प्रबंधन पर राष्ट्रीय ई-आईसीयू की कवायद ने देश में ठीक होने की दर बेहतर करने और मृत्यु दर घटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है ।

राष्ट्रीय ई-आईसीयू का आयोजन सप्ताह में दो बार मंगलवार और शुक्रवार को होता है । इसमें राज्यों के कोविड-19 अस्पतालों के आईसीयू के डॉक्टर हिस्सा लेते हैं। इस दौरान कोविड-19 उपचार के संबंध में सवालों के जवाब दिए जाते हैं । अब तक ऐसे 14 राष्ट्रीय ई-आईसीयू का आयोजन हो चुका है। इसमें देश के 22 राज्यों के 117 अस्पतालों ने हिस्सा लिया है।

देश में संक्रमण के 61,408 नए मामले आने से सोमवार को कुल संक्रमितों की संख्या 31,06,348 हो गयी। सुबह आठ बजे अपडेट किये गए आंकडों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 836 मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 57,542 हो गई।