इंदौर में कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, कंकाल रख कर ज्योतिरादित्य सिंधिया व शिवराज सिंह चौहान पर साधा निशाना

0
40

सड़कों पर चिपकाया पोस्टर, जिसमें लिखा था सड़क पर कब आओगे महाराज। सड़क पर उतरने के नाम से गिराई थी सरकार

इंदौर। भाजपा के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया शनिवार शाम सांवेर में जनसभा के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ पहुचे। इस अवसर पर कांग्रेसियों ने उनका अनोखा विरोध किया। कांग्रेसियों ने सांवेर की सड़कों पर पोस्टर चिपका दिया, जिसमें लिखा था सड़क पर कब आओगे महाराज। सड़क पर उतरने के नाम से गिराई थी सरकार। वादा करके भूल गए महाराज। महाराज, जनता कर रही इंतजार।

कांग्रेस के प्रदेश सचिव विवेक खंडेलवाल ने बताया कि सिंधिया कुछ माह पहले तक कांग्रेस के नेता थे और सांवेर की जनता को कहते थे कि कांग्रेस को वोट दें ताकि किसानों का ऋण माफ हो, जो कांग्रेस सरकार में हुआ। मगर अपने निजी स्वार्थ के चलते उन्होंने कांग्रेस की जनहितैषी सरकार को गिराया और आज भाजपा के लिए वोट मांगने आ रहे हैं।
जिस शिवराज सिंह को वो किसानों का खूनी बताते थे, उनके साथ वो वोट मांग रहे हैं। उन्होंने सरकार गिराते समय कहा था कि मैं जनता के लिए सड़क पर आऊंगा। मगर वो हेलीकॉप्टर में घूम रहे हैं। वो सड़क, वो जनता और वो किसान उनका इंतजार कर रहे हैं। इसीलिए कांग्रेस ने सड़कों की तरफ से पोस्टर और स्टीकर चिपकाए हैं। पोस्टरों के माध्यम से सिंधिया को कहा कि अपना वादा भूल गए महाराज, आओ सड़कों पर और जनता की दुख तकलीफें दूर करो।

महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय इंदौर में शवों के रखरखाव में लगातार बरती जा रही लापरवाही को लेकर कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन किया। इस अनोखे विरोध में कांग्रेसियों ने जमीन पर कंकाल रख कर ज्योतिरादित्य सिंधिया व शिवराज सिंह चौहान पर जमकर निशाना साधा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रतीकात्मक रूप से सड़कों पर कंकाल रखकर शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया से सवाल करें कांग्रेस पदाधिकारियों का साफ कहना था कि अस्पतालों में और श्मशान घाटों में जगह नहीं है और बीजेपी नेताओं को उपचुनाव की चिंता है।

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 400 के पार हो रही है और अस्पतालों की हालत यह है कि वहां पर पुरानी लाशों के कंकाल बन रहे हैं या फिर किसी मृत व्यक्ति की लाश को चूहे खा रहे हैं, कांग्रेस पदाधिकारियों ने ज्योतिरादित्य सिंधिया से पूछा कि उन्होंने कांग्रेस सरकार को गिराते समय कहा था कि जब जरूरत पड़ेगी। मैं जनता के लिए सड़कों पर आऊंगा तो वे अब सड़कों पर कब आ रहे हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस में रहते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने यह कहा था कि यदि जनता की मांग पूरी नहीं होती है तो मैं सड़क पर आऊंगा उनके इसी बयान को लेकर हर बार कांग्रेस ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधा है। 26 सितंबर को ज्योतिरादित्य सिंधिया और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सांवेर में कार्यक्रम करने के लिए आ रहे हैं। कांग्रेस ने ये भी आरोप लगाए कि इस कार्यक्रम में सात से आठ करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं जबकि उसका उपयोग आम जनता के इलाज में होना था।