विधायक रघुवंशी के पत्र पर मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, मड़़ीखेड़ा बांध समूह पेयजल परियोजना कैबिनेट में भेजी

0
2

मंजूर हुई तो 842 गांव के 8.83 लाख आवादी को मिलेगा पानी

khemraj morya
शिवपुरी। कोलारस के भाजपा विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने अपने विधानसभा क्षेत्र के नागरिकों की पेयजल समस्या हल करने और करैरा, नरवर, पोहरी, पिछोर तथा शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र के सैकड़ों गांवों को पीने के पानी की उपलब्धता के लिए मड़ीखेड़ा बांध समूह पेयजल परियोजना के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा। इसके बाद विधायक रघुवंशी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से योजना को स्वीकृति दिलानें के लिए चर्चा की। जिसका परिणाम यह हुआ कि 1 हजार 97 करोड़ अनुमानित लागत की मड़ीखेड़ा बांध समूह पेयजल योजना मंजूरी के लिए कैबिनेट में पहुंच गई है। यह योजना यदि क्रियान्वित हो गई तो उससे जिले के 842 गांवों को तथा लगभग 9 लाख आवादी को पीने का शुद्ध पानी मिलेगा एवं घर-घर नल लगेंगे। हर गांव में पानी की टंकियां बनेंगी। योजना हेतु 50-50 प्रतिशत राशि केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा वहन की जाएगी। योजना को कैबिनेट में भेजने के लिए विधायक रघुवंशी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि वह विकास के लिए सदैव चैतन्य रहते हैं और विकास कार्यो को मंजूरी दिलाने में कभी पीछे नहीं हटते।

कोलारस विधानसभा क्षेत्र के कुछ गांव पेयजल की किल्लत से परेशान हैं। यह देखते हुए विधायक रघुवंशी ने कोलारस और बदरवास तहसील के गांवों में पीने का पानी पहुंचाने के लिए समूह पेयजल योजना बनवाई। उनका कहना है कि इस योजना के क्रियान्वित होने से पोहरी, पिछोर और शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र के कई गांव भी लाभांवित होंगे और उन्हें पीने का पानी मिलेगा। श्री रघुवंशी ने भोपाल में जल निगम से समूह पेयजल योजना का प्रस्ताव तैयार कराया और इसके बाद वह प्रस्ताव लेकर अनेक बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिले। जिसके परिणामस्वरूप प्रस्ताव कैबिनेट में पहुंच गया है। कैबिनेट में मंजूरी मिलते ही फाईनल डीपीआर के साथ टेंडर प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। यह योजना 2053 तक के लिए तैयार की गई है और लक्ष्य 13.55 लाख आवादी तक पानी पहुंचाना है। साल 2020 की स्थिति में 1 लाख 85 हजार 945 घर शामिल किए गए हैं। जिससे 8 लाख 83 हजार 227 लोगों को पानी मिलेगा।

येाजना में पांच विधानसभा के गांव शामिल
विधायक रघुवंशी ने बताया कि मड़ीखेड़ा बांध समूह पेयजल परियोजना में कोलारस विधानसभा क्षेत्र के 359, शिवपुरी विधानसभा क्षेत्र के 222, पोहरी व करैरा के 206 और पिछोर के 50 गांव शामिल हैं।