मैदान में उतरे दोनों दलों के प्रत्याशी अब जमेगा चुनावी रंग

0
3

कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशियों की घोषणा के बाद अब जमेगा चुनावी रंग

25 पूर्व पंजाधारी अब मांगेंगे कमल पर वोट

भोपाल। ब्यावरा विधानसभा सीट छोड़कर कांग्रेस ने 27 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं, जिसमें सांवेर के प्रेमचंद गुड्डू को टिकट दिया गया, तो भाजपा ने भी एक साथ सभी 28 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। महत्वपूर्ण बात यह है कि भाजपा के 28 उम्मीदवारों में 25 पूर्व कांग्रेसी हैं। यानी पिछले विधानसभा चुनाव में इन सभी ने हाथ के पंजे के लिए वोट मांगे थे, तो अब कमल को वोट देने की अपील मतदाताओं से की जाएगी। इंदौर के सांवेर में दोनों ही प्रत्याशी दल बदलकर आए हैं इसलिए अन्य सीटों से यहां का मुकाबला अधिक रोचक और महत्वपूर्ण बताया जा रहा है, क्योंकि सिलावट सिंधिया खेमे के प्रमुख सिपहसालार भी हैं।

अब दोनों ही दलों के अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा के बाद चुनावी रंग जमना शुरू होगा। हालांकि पहले से ही सिलावट और गुड्डू ने चुनाव प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है और इस बार सोशल मीडिया का भी जमकर इस्तेमाल किया जा रहा है, क्योंकि कोरोना के चलते अधिक भीड़ जुटाने पर रोक है। हालांकि बावजूद इसके रोजाना भोजन-भंडारे, मिलन समारोह, कार्यकर्ता सम्मेलन सहित अन्य भीड़ भरे आयोजन हो ही रहे हैं और इस संबंध में दोनों ही दलों के कार्यकर्ता एक-दूसरे के खिलाफ पुलिस-प्रशासन से लेकर चुनाव आयोग तक शिकायतें कर रहे हैं।

बागियों पर जताया भरोसा
सिंधिया खेमे के सभी 22 पूर्व विधायकों को भाजपा ने टिकट दिया और तीन उन पूर्व विधायकों को भी पार्टी ने टिकट दिया है, जो पिछले दिनों कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए। यानी 28 में से 25 सीटों पर पूर्व कांग्रेसी ही भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं कांग्रेस ने ब्यावरा विधानसभा सीट के अलावा अन्य सभी सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है और बदनावर में टिकट भी बदल दिया गया। अब सांवेर में मुकाबला कड़ा है, क्योंकि सिलावट के लिए जहां भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी है, वहीं प्रदेश सरकार का भी उसे पूरा सहयोग मिल रहा है। पिछले दिनों खुद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की मौूजदगी में हजारों लोगों का भीड़ भरा आयोजन हुआ और उसके दो दिन बाद आयोग ने चुनाव की घोषणा करते हुए आचार संहिता लागू कर दी। गुड्डू को कांग्रेस पहले ही अपना प्रत्याशी घोषित कर चुकी है और अधिकृत रूप से सिलावट के भी प्रत्याशी घोषित हो जाने के बाद अब चुनाव प्रचार-प्रसार जोर पकड़ेगा।