बंगाल में दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाएगी भाजपा: प्रशांत किशोर

0
24

नई दिल्ली, पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान हो गया है। राज्य में आठ चरणों में मतदान कराये जाएंगे और दो मई को परिणाम आएंगे। विधानसभा चुनावों में ममता बनर्जी के लिए काम कर रहे चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने शनिवार को बीजेपी पर तीखा हमला बोला। प्रशांत किशोर ने कहा है कि भारत में लोकतंत्र के लिए प्रमुख लड़ाई पश्चिम बंगाल में लड़ी जाएगी।

अपनी ही बेटी चाहता है बंगाल

किशोर ने कहा है कि दो मई को मेरा पुराना ट्वीट याद रखिएगा। पीके बोले- अपनी ही बेटी चाहता है बंगाल प्रशांत किशोर ने शनिवार को ट्वीट कर कहा,’भारत में लोकतंत्र के लिए एक अहम लड़ाई पश्चिम बंगाल में लड़ी जाएगी। बंगाल केवल अपनी बेटी चाहता है। बंगाल के लोग अपने संदेश के साथ तैयार हैं और अपने राइट कार्ड दिखाने के लिए दृढ़-संकल्पित हैं।

टीएमसी के स्लोगन का फोटो भी शेयर किया।

प्रशांत किशोर ने चुनाव अभियान के लिए टीएमसी के स्लोगन का फोटो भी शेयर किया। इसमें बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की फोटो के साथ एक नारा लिखा है- बंगला निजेर मेय की चे यानी बंगाल को केवल उसकी अपनी बेटी पर भरोसा है। ‘2 मई को मेरा पिछला ट्वीट निकाल लेना’ प्रशांत किशोर ने 21 दिसंबर को किए एक ट्वीट के बारे में भी याद दिलाया। तब उन्होंने दावा किया था कि बंगाल में भाजपा दहाई के आंकड़े से आगे नहीं बढ़ पाएगी।

बंगाल चुनावों में दहाई का आंकड़ा पार कर जाएगी, मैं ट्विटर छोड़ दूंगा

बताते चलें कि इससे पहले प्रशांत किशोर ने पिछले साल 21 दिसंबर को ट्वीट करके कहा था कि अगर बीजेपी, बंगाल चुनावों में दहाई का आंकड़ा पार कर जाएगी, मैं ट्विटर छोड़ दूंगा। बंगाल में 8 चरणों में चुनाव गौरतलब है कि, पश्चिम बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे और वोटों की गिनती बाकी चार राज्यों के साथ ही 2 मई को होगी।

तारीखों के ऐलान के बाद तृणमूल कांग्रेस सहित कई विपक्षी दलों ने पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में चुनाव कराने पर शुक्रवार को सवाल उठाया हैं। केरल और तमिलनाडु में चुनाव एक चरण में छह अप्रैल को होंगे।