जानवरों का अनाज जनता को खिला रही भाजपा सरकार – राकेश तिवारी

0
7
bjp-government-feeding-animal-grains-to-the-public-rakesh-tiwari

जानवरों का अनाज जनता को खिला रही भाजपा सरकार – राकेश तिवारी

घटिया अनाज मामले में कांग्रेस का हल्ला बोल-ज्ञापन सौंपकर की जांच की मांग

bjp-government-feeding-animal-grains-to-the-public-rakesh-tiwari

Syed Javed Ali
मण्डला – कोरोना संकटकाल में गरीबों को बांटे गए घटिया अनाज के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है। इस मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी ने मैदान में आकर जोरदार विरोध किया है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष एड राकेश तिवारी ने कहा कि जिले में गरीबो को बांटे गए अनाज की गुणवत्ता इतनी घटिया व निम्न है कि इसे जानवरों को भी नहीं खिलाया जा सकता। यह हम नहीं यह केंद्र सरकार की जांच कमेटी खुद कह रही है। अभी तो एक गोदाम की जांच हुई है यदि जिले के सभी गोदामों की जांच हो जाये तो हर गोदाम से घटिया अनाज निकलेगा। इस हेतु मप्र कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव संजय सिंह परिहार व निवास विधायक डॉ अशोक मर्सकोले की उपस्थिति में जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष एड राकेश तिवारी के नेतृत्व में जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर टीम गठन कर जिले के सभी गोदामों में भंडारित अनाज की जांच की मांग की गई।

सौंपे गए ज्ञापन में बताया गया कि केंद्रीय जांच टीम की पड़ताल में खुलासा हुआ है कि राशन दुकानों से बीते माहों में गरीबों को वितरित किया गया पीडीएस का अनाज अत्यंत घटिया क्वालिटी का है। समिति की रिपोर्ट में स्पष्ट उल्लेखित है कि इस अनाज की गुणवत्ता इतनी अधिक घटिया है कि इसे जानवरों को भी नहीं खिलाया जा सकता है। इस घटिया व अमानवीय कृत्य के लिए जिम्मेदार अधिकारियों कर्मचारियों सहित मिलर्स पर कठोर से कठोर कार्यवाही की आवश्यकता है। जिले में जिस धान से चावल बनाया जाता है वह किसानों से खरीदी जाती है और उसका एक एक दाना चुनकर खरीदा जाता है जब खरीदी गई धान उच्च क़्वालिटी की रहती है तो उससे मिलिंग किया गया चावल घटिया कैसे हो जाता है यह जांच का विषय है।

इसमें नागरिक आपूर्ति निगम, खाद्य विभाग की मिलर्स के साथ मिलीभगत स्पष्ट उजागर हो रही है। चावल को गोदाम में भंडारित करने के पूर्व इसकी गुणवत्ता जांच भी होती है यदि यह जांच सही की गई होती तो घटिया चावल निकलने का प्रश्न ही नही रहता। इस पूरे प्रकरण में विभागीय अधिकारियों की मिलर्स के साथ मिलीभगत स्पष्ट उजागर हो रही है। इस हेतु जिले के सभी गोदामों में भंडारित अनाज की गुणवत्ता जांच एक टीम गठित कर पुनः कराई जाये, एवं दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों व मिलर्स के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करवाकर कार्यवाही की जाए। वहीं कृषि उपज मंडी समिति मण्डला द्वारा दिनांक 27/08/2020 को एक आदेश जारी किया गया है जिसमे व्यापारियों द्वारा पीडीएस राशन का अनाज खरीदने को दंडनीय अपराध घोषित किया गया है लेकिन पीडीएस के अनाज के चिन्हांकन व पहचान को लेकर कोई निर्देश जारी नहीं किये गए हैं जिससे व्यापारी वर्ग भ्रमित हैं कि वे कौनसा अनाज खरीदें और कौनसा नहीं खरीदें। इस हेतु राशन के अनाज की स्पष्ट परिभाषा भी नहीं बताई गई है। एक ही व्यक्ति दुकानदार भी हो सकता है और वही व्यक्ति किसान भी हो सकता है और वही विक्रयकर्ता होने के साथ राशन के अनाज का पात्र भी हो सकता है। ऐसी स्तिथि में व्यापारी वर्ग अत्यधिक परेशान होगा और उन्होंने व्यापार बंद करने की चेतावनी भी जारी की है। इसलिए कृषि उपज मंडी समिति द्वारा जारी उक्त आदेश तब तक के लिए निरस्त किया जाए जब तक पीडीएस राशन के अनाज की स्पष्ट पहचान या चिन्हांकन जारी न की जाए। ज्ञापन में उल्लेखित किया गया है कि दोनो मांगे जनहित व कृषक हित मे होने के साथ मानवीयता के परिपेक्ष्य से भी अत्यंत संवेदनशील हैं। अतः तत्काल जांच टीम गठित करके जांच प्रारम्भ करवाई जाए अन्यथा कांग्रेस पार्टी के द्वारा नागरिक आपूर्ति निगम के कार्यालय का घेराव किया जाएगा।

ये रहे उपस्थित –
इस दौरान जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष एड राकेश तिवारी, प्रदेश सचिव संजय सिंह परिहार, निवास विधायक डॉ अशोक मर्सकोले, अमित शुक्ला, भोजराज भोजू, रवि ठाकुर, शिवराज कछवाहा, संतोष मिश्रा, हेमंत मोदी, अनूप बासल, सुकीर्ति भूषण, संजय चौरसिया, प्रदीप खरबंदा, रंजीत उइके, संतीश झारिया, युवक कांग्रेस अध्यक्ष अभिनव चौरसिया, राजेंद्र राजपूत, अखिलेश अक्कू ठाकुर, सरजू तिवारी, नीलू शुक्ला, शकुन जंघेला, चंद्रमोहन सराफ, अनीता मिश्रा, सीमा सोनवानी, तंजीला अल्वी, भागा बाई श्याम, आयशा खान, वंदना सोनी, राधा राय, शकीला खान, सीमा गोंटिया, सैयद मंजूर अली, सुभाष पांडे, राजीव सोनी, रामविलास झारिया, अदीब गौरी, अनिल दुबे, मुन्ना लाल तिवारी, महेंद्र चंद्रोल, जगदीश कुर्राम, राकेश श्रीवास, इकबाल खान, श्रीकांत कछवाहा, जयप्रकाश दुबे, अखिलेश कछवाहा, आकाश चौरसिया, इंद्रजीत भंडारी, शांता झारिया, कमलेश तिलगाम, गणेश पांडे, देवा वरकड़े, बसंत मरावी, कोकड़िया दादा, शंभु सिंह, एमएस मरावी, सुशांत सोनी, रजनीश रंजन उसराठे, हनी बर्वे, विक्रम सिन्हा, आनंद तिवारी, देवेंद्र जैन, गणेश पटेल, अमित पांडे, कुलदीप कछवाहा सहित काफी संख्या में कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित रहे।