अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर 31 मार्च तक बढ़ाया गया प्रतिबंध

0
24


नई दिल्ली,
नागर विमानन महानिदेशालय द्वारा इस संबंध में जारी किए गए सर्कुलर में कहा गया है कि, केंद्र ने अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध को 31 मार्च तक बढ़ा दिया है। प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय ऑल-कार्गो परिचालन और विमानन संस्था द्वारा विशेष रूप से अनुमोदित उड़ानों पर लागू नहीं होंगे।

कोरोना वायरस के मामलों में एक बार फिर से हो रही वृद्धि को देखते हुए केंद्र सरकार ने अंतरराष्टीय उड़ानों पर लगे प्रतिबंध को 31 मार्च तक के लिये बढ़ा दिया है। सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि अंतर्राष्ट्रीय नियत उड़ानों को सक्षम अथॉरिटी द्वारा परिस्थिति के आधार पर चुनिंदा मार्गों से उड़ान भरने की अनुमति दी जा सकती है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर पिछले साल मार्च में प्रतिबंध लगाया गया था।

इसके बाद जैसे-2 कोरोना के केस कम होते गए सरकार ने कई धीरे धीरे कई क्षेत्रों से पाबंदियों को हटाना शुरू किया लेकिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंधों में कोई छूट नहीं दी गई। पिछले साल के दिसंबर माह में केंद्र सरकार ने यूरोपीय देश ब्रिटेन में पाए गए कोरोना के नए स्ट्रेन के कारण दोनों देशों के बीच उड़ानों की आवाजाही पर पाबंदी लगा दी थी।

हालांकि इसके कुछ समय बाद प्रतिबंध को हटा लिया गया था। शुक्रवार को गृह मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर मौजूदा दिशा-निर्देश 31 मार्च तक लागू रहेंगे। मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि हालांकि, कोरोना वायरस के सक्रिय और नए मामलों में गिरावट आई है

लेकिन पूरी तरह से महामारी को दूर करने के लिए निगरानी, ​​नियंत्रण और सावधानी बनाए रखने की आवश्यकता है। मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान में भी तेजी लाने को कहा है।