असिस्टेंट कैशियर ने रची थी प्राइवेट कंपनी में लूट की साजिश, 10.5 लाख के साथ गिरफ्तार

0
6

कोरबा, रविवार की अलसुबह दीपका के एसईसीएल गेवरा परियोजना क्षेत्र में स्थित सैनिक माइनिंग कोल ट्रांसपोर्ट कंपनी में दो गार्ड पर हमला कर 31 लाख रुपये लूट के मामले में रविवार की देर पुलिस ने असिस्टेंट कैशियर को गिरफ्तार कर उसके घर से 10.5 लाख रुपये बरामद कर लिए। इस लूटकांड में उनका साथ देने वाले दो अन्य आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस ने 15 घंटे में लूट कांड का मामला सुझा लिया और रविवार देर रात कंपनी के ही असिस्टेंट कैशियर को गिरफ्तार कर उसके घर से 10.5 लाख रुपए बरामद कर लिए। पुलिस इस मामले में अन्य दो आरोपियों की तलाश कर रही है। असिस्टेंट कैशियर ने ही लूट की साजिश रची थी। बताया जात है कि दीपका के एसईसीएल गेवरा परियोजना क्षेत्र स्थित सैनिक माइनिंग कोल ट्रांसपोर्ट कंपनी के दफ्तर में कर्मचारियों को वेतन बांटने के लिए रुपए रखे थे। शनिवार रात नकाबपोश बदमाश आॅफिस में चोरी करने घुसे। गार्ड ने देख लिया तो उसे और ड्राइवर को मारपीट कर बंधक बना लिया और 31 लाख रुपए लेकर फरार हो गए। पुलिस को मामले में पहले से ही कर्मचारियों पर संदेह था। ऐसे में रुपयों की जानकारी रखने वाले कर्मचारियों से पूछताछ की गई। इसमें असिस्टेंट कैशियर जेएल प्रसाद भी शामिल था। संदेह होने पर पुलिस ने सख्ती से उससे पूछा तो उसने वारदात कबूल कर ली। आरोपी कैशियर ने बताया कि उसने पहले ही 10.5 लाख रुपए चोरी कर लिए थे।

पूछताछ में आरोपी असिस्टेंट कैशियर ने बताया कि उसने अपने परिचितों को लूट की साजिश में शामिल किया। इसके लिए कंपनी में रखी रकम 31 लाख रुपए ही बताई। ऐसे में लूट की रकम कम भी हो सकती है। आरोपी जेएल प्रसाद कंपनी में 20 साल से काम कर रहा था।