आशा कार्यकर्ताओं ने लिया गांव को मलेरिया मुक्त बनाने का संकल्प

0
3

मलेरिया, डेंगू नियंत्रण की दिशा आशा कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण संपन्न

khemraj morya
शिवपुरी। जिले को मलेरिया व डेंगू मुक्त बनाने की दिशा में गोदरेज के सहयोग से फेमिली हेल्थ इंडिया व जिला स्वास्थ्य समिति शिवपुरी के संयुक्त तत्वाधान में क्रियान्वित एम्बेड परियोजना के तहत आज शुक्रवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोड़ (पिछोर) में आशा कार्यकर्ताओं व आशा सहयोगिनियों के साथ एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। शासन के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए कोरोना वाइरस संक्रमण से बचाव की दिशा में मास्क का वितरण भी किया गया।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी शिवपुरी डॉ.ए.एल.शर्मा के मार्गदर्शन में आयोजित कार्यक्रम में ग्राम डगरिया, खोड़, चरखाऊ, गदोइया, महुआखेडा, गणेशखेडा, चिरवाई, चिन्नोंदी, बुढानपुर, दरगवां, एवं धोर्रा की आशा कार्यकर्ताओं ने अपनी सक्रिय सहभागिता निभाई। प्रशिक्षण के दौरान सेक्टर मेडिकल ऑफिसर डॉ.अनुराग तिवारी द्वारा सहभागियों को गाँव में अधिक से अधिक मलेरिया जाँच करने व स्लाइड बनाने के लिए प्रेरित किया। जिला समन्वयक एम्बेड परियोजना विजय मिश्रा व जिला मलेरिया अधिकारी लालजू शाक्य द्वारा मलेरिया होने के कारण व बचाव के साधनों पर फिल्म के माध्यम से विस्तार से समझाते मच्छर के जीवन चक्र को बताया तथा इसे रोकने के तरीके समझाते हुए लार्वा विनिष्टीकरण की प्रक्रिया को समझाया। साथ ही साथ मच्छररोधी साधनों व मच्छरदानी के नियमित उपयोग के लिए प्रेरित किया।

पानी को ढककर रखने, फुल कपड़े पहनकर व घरों से कवाड हटा कर मलेरिया के रोकथाम के विशेष तरीकों के विषय में भी विस्तार से समझाया। उन्होंने बताया की आज जरूरत के अनुसार हमें जनहित में अपनी दिनचर्या में इन उपायों को अपनाना होगा। गर्भवती महिलाओं व धात्री माताओं के द्वरा सोते समय नियमित रूप से मच्छरदानी का उपयोग हमारी जीवन शैली में शामिल होना चाहिए तभी हम अपने गाँव को मलेरिया मुक्त बना सकते हैं। प्रशिक्षण में उपस्थित मलेरिया तकनीकी सुपरवाइजर दिनेश भार्गव व मलेरिया फील्ड वर्कर मुन्नालाल द्वारा मलेरिया जाँच हेतु रक्त परीक्षण प्रक्रिया को सभी सहभागियों के साथ एक दूसरे की स्लाईड बनवाकर विस्तार से समझाया गया। प्रशिक्षण के दौरान निर्धारित फार्म भरने व मलेरिया के डोज, दवाओं के विषय में भी विस्तार से जानकारी दी गयी। कार्यक्रम के अंत में सभी आशा कार्यकर्ताओं को मलेरिया जाँच किट वितरित की गयी तत्पश्चात सभी सहभागियों द्वारा मच्छर से बचाव के साधनों को अपनाना गाँव की रीति रिवाज में शामिल कर मलेरिया मुक्त गाँव बनाने का संकल्प लिया। आयोजित सम्पूर्ण कार्यक्रम में एम्बेड टीम से दीपक, रियाज, महेश एवं विजय का विशेष योगदान रहा।