कृषि बिल किसानों के हित में है, इससे किसानों की माली हालत सुधरेगी: कृषि मंत्री

0
6

MSP है और रहेगी, इन बिलों से नहीं खत्म हो रही मंडी

नई दिल्ली, कृषि क्षेत्र से जुड़े दो बिल पर बवाल जारी है. उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा में किसान सड़क पर उतर आए हैं और मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. हालांकि, विरोध के बावजूद मोदी सरकार पीछे हटने के लिए तैयार नहीं है और लोकसभा से दो बिल को पास करा लिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि कुछ लोग किसानों को भ्रमित कर रहे हैं. इस मसले पर किसान पंचायत कार्यक्रम में किसान, एक्सपर्ट और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बिल के नफे-नुकसान के बारे में बात किया.
राहुल का ट्वीट- मोदी सरकार से उठा किसानों का भरोसा
राहुल गांधी ने एक ट्वीट में कहा, किसान का मोदी सरकार से विश्वास उठ चुका है क्योंकि शुरू से मोदी जी की कथनी और करनी में फ़र्क़ रहा है- नोटबंदी, ग़लत GST और डीज़ल पर भारी टैक्स. जागृत किसान जानता है- कृषि विधेयक से मोदी सरकार बढ़ाएगी अपने ‘मित्रों’ का व्यापार और करेगी किसान की रोज़ी-रोटी पर वार.
कृषि मंत्री बोले- जिसको राजनीति करना है, वो राजनीति करे
शिवसेना नेता संजय राउत के बयान पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि हम राज्यसभा में सभी नेताओं से बात करेंगे. सरकार साफ नियत के साथ बिल को लेकर आई है. यह किसानों के हित में है और हम किसानों की माली हालत सुधारने वाले हैं. जिनको राजनीति करना है, वह राजनीति कर सकते हैं. भारत सरकार, किसानों के हित के लिए प्रतिबद्ध है.