28 सितंबर से बिहार में खुलेंगे स्कूल, एक दिन में कितने बच्चे जा सकेंगे पढ़ने

0
2

 पटना 
बिहार में 9वीं से 12वीं तक के सभी सरकारी और निजी स्कूल 28 सितंबर से खुल जाएंगे। अनलॉक-4 के तहत केन्द्र सरकार से मिली गाइडलाइन को लेकर बिहार शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई बैठक में 28 सितंबर से माध्यमिक-उच्च माध्यमिक विद्यालय तथा 11वीं-12वीं के कॉलेजों को खोलने का निर्णय लिया गया।

बैठक में यह निर्णय हुआ कि एक दिन में अधिकतम एक तिहाई बच्चे ही स्कूल बुलाए जाएंगे। एक बच्चा हफ्ते में दो दिन ही स्कूल आ पाएगा। इन्हें तीन श्रेणियों में बांटा जाएगा। मसलन जो सोमवार को आएंगे वे दूसरी बार गुरुवार को, मंगलवार को आने वाले दुबारे शुक्रवार को और जो बुधवार को आएंगे वे दुबारे फिर शनिवार को स्कूल आएंगे। 

हर कार्यदिवस में 50 फीसदी शिक्षक-कर्मी ही स्कूल आएंगे। अर्थात प्रत्येक शिक्षकों को एक दिन बीच करके स्कूल बुलाया जा सकता है। सामाजिक दूरी बरकरार रखने के ख्याल से ऐसा निर्णय हुआ है। सभी शिक्षकों और विद्यार्थियों को मास्क लगाकर ही स्कूल आना होगा। कक्षाओं और स्कूल परिसर में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। 

वहीं, अभिभावकों की लिखित सहमति के बाद ही बच्चे स्कूल जा सकेंगे। यह व्यवस्था स्वैच्छिक आधार पर होगी और स्वेच्छा से ही छात्र-छात्रा शिक्षकों से मार्गदर्शन प्राप्त करने स्कूल जाएंगे। कंटेनमेंट जोन के सभी स्कूल अब भी बंद रहेंगे। ऐसे जोन में रहने वाले वैसे शिक्षक, कर्मी और विद्यार्थी, जिनके विद्यालय कंटेनमेंट जोन से बाहर हों, उन्हें भी स्कूल जाने पर रोक रहेगी। 

28 से पहले स्कूल परिसर को कराना होगा सेनेटाइज
28 सितंबर के पहले स्कूलों को तमाम तैयारी करनी होगी। पूरे परिसर को सेनेटाइज करना होगा। क्वारंटाइन सेंटर बने स्कूलों में सघन सेनेटाइजेशन कराया जाएगा। साथ ही 8 सितंबर को केन्द्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का स्कूलों को पालन करना होगा। स्कूलों के लिए शिक्षा विभाग अलग से एक-दो दिन में विस्तृत गाइडलाइन भी जारी करेगा।

शिक्षा विभाग के प्रवक्ता अमित कुमार ने बताया कि 28 सितंबर से एक तिहाई बच्चों के लिए रोजाना नौवीं से 12वीं तक के स्कूल खोले जाने के बावजूद ऑनलाइन और दूरदर्शन द्वारा चलाई जा रही कक्षाएं पूर्ववत जारी रहेंगी। बैठक में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक संजय सिंह, प्राथमिक निदेशक रंजीत कुमार सिंह, माध्यमिक निदेशक गिरिवर दयाल सिंह और उच्च शिक्षा निदेशक समेत प्रमुख विभागीय अधिकारी शामिल हुए।

पहली से आठवीं तक के सभी स्कूल बंद रहेंगे
शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि राज्यभर के सभी प्रारंभिक स्कूल फिलहाल बंद ही रहेंगे। विदित हो कि सरकारी प्राथमिक और मध्य विद्यालयों की संख्या करीब 72 हजार है। इसके अलावा 40 हजार निजी स्कूलों में भी बड़ी संख्या प्रारंभिक स्कूलों की है। कोविड-19 के प्रभाव से छोटे बच्चों को बचाए रखने के मद्देनजर ये स्कूल बंद रहेंगे।