19 वर्षीय मोनू की हिरासत में मौत, परिजनों ने लगाया मारपीट का आरोप, थानेदार सस्पेंड

0
4

रायबरेली, उत्तर प्रदेश में रायबरेली के लालगंज कोतवाली में पुलिस हिरासत के दौरान एक आरोपी युवक की मौत होने के मामले को गंभीरता से लेते पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाईं ने संबंधित थाना प्रभारी निरीक्षक हरिशंकर प्रजापति को निलंबित कर दिया। पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगई ने बताया कि लालगंज पुलिस मोटरसाइकिल चोर गिरोह को पकड़ने के लिए काम कर रही थी और करीब 10-11 मोटरसाइकिल बरामद हुई थी। इस मामले में चार आरोपियों के नाम मोहम्मद जैनुद्दीन, मोहम्मद अनस, सुमित यादव और अंकित यादव के नाम सामने आए थे। उनसे पूछताछ में 19 वर्षीय मोहित उर्फ मोनू का नाम भी सामने आया था और अब तक की जांच में मृतक मोनू की संलिप्तता पाई थी।

शनिवार रात मोनू की तबियत अचानक खराब होने लगी और उसने पेट दर्द की शिकायत की जिसके बाद उसे लोकल डॉक्टर को दिखाया गया। रविवार सुबह तबियत ज्यादा बिगड़ गई जिसके कारण जिला अस्पताल रेफर किया गया। जिला अस्पताल में उसे निमोनिया बुखार और ऑक्सीजन लेवल कम होने के लक्षण थे लेकिन शारिरिक रूप से मारपीट और चोट के लक्षण नही थे। लेकिन उसकी मौत रविवार 11 बजे हो गयी। उन्होंने बताया कि उसके परिजनों की ओर से सब इंस्पेक्टर अरविंद मौर्य और जेपी यादव के खिलाफ शिकायत की है।

इस बीच जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने बताया कि प्रथम दृष्टया कुछ अनियमितता जानकारी में आई हैं जिसमे बिना लिखापढ़ी के मृतक को निर्धारित समय से ज्यादा हिरासत में रखा गया था जिसकी मजिस्ट्रेट जांच की जा रही है। परिजनों ने पुलिस पर मोहित के साथ मारपीट और टॉर्चर का आरोप लगाया है। मोहित अचानक मौत से लोग भड़क गए और पुलिस के इस कृत्य की निंदा करते हुए सड़क पर प्रदर्शन करने लगे जिससे प्रशासन को स्थित नियंत्रण करने के लिये हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। मामला तूल पकड़ते देख जिला प्रशासन को मामले की पुलिस और मजिस्ट्रेट जांच तथा प्रभारी निरीक्षक को निलंबित कर दिया।

इस घटना के सिलसिले में मोहित की मां राजपती ने एक शिकायती पत्र पुलिस के विरुद्ध दिया है। शिकायती पत्र में लिखे आरोपो की जांच जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी को सौंपी है तथा पुलिस अधीक्षक ने भी अपर पुलिस अधीक्षक  नित्यानंद राय को सम्बंधित आरोपो की जांच सौंपी है। उन्होंने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है और रिपोर्ट आने के बाद, उसके आधार पर दोषियों के विरुद्ध आगे कार्रवाई की जाएगी। कानून व्यवस्था की स्थिति से सामान्य है। प्रकरण पर सतर्क निगरानी रखी जा रही है।

गौरतलब है कि 26 अगस्त को लालगंज पुलिस ने बाइक चोरी के मामले में पूरे बैजू मजरे बेहटा कला निवासी मोहित तथा उसके भाई सोनू को पकड़ा था। परिजनों का आरोप है पूछताछ के बाद पुलिस ने सोनू को पूछताछ के बाद  दूसरे दिन छोड़ दिया गया था जबकि मोहित को कई दिन तक कोतवाली में बैठाये रखा और शनिवार रात उसकी तबीयत खराब हुई थी। पुलिस उसे इलाज के लिए  अस्पताल ले गई और उपचार के दौरान जिला अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गई। परिजनों का आरोप है पुलिस द्वारा की गई मारपीट से मोहित की मृत्यु हुई है।