सरसों के तेल में काले धब्बे और पिगमेंटेशन को हल्का करने के अद्भुत गुण

0
1

सरसों का तेल जिसे हिंदी में कच्ची घानी तेल के रूप में भी जाना जाता है, देश के अधिकांश हिस्सों में खाना पकाने, पूजा-पाठ, शिशु की मालिश और सौंदर्य लाभों के लिए उपयोग किया जाता है। इसे तेल को सरसों के दानों को कम तापमान पर कुचल कर तैयार किया जाता है, इसलिए इसमें पाए जाने वाले प्राकृतिक तत्व, जैसे एंटीऑक्सिडेंट, ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन-ई आदि बरकरार रहते हैं।

डार्क स्पॉट एक ऐसी चीज है जो व्यक्ति को खुद को कमतर महसूस करा सकती है। लेकिन एक सही सामग्री और घरेलू उपचार का उपयोग करके इन सब चीजों से छुटकारा पाया जा सकता है। सरसों के तेल में काले धब्बे और पिगमेंटेशन को हल्का करने के अद्भुत गुण होते हैं। जबकि चेहरे पर सरसों के तेल की नियमित मालिश एक बहुत बड़ा बदलाव ला सकती है। आज हम डार्क स्पॉट्स को दूर करने के लिए आपको एक बेहद सरल DIY फेस पैक का उपयोग करना बताएंगे। आप इस घरेलू फेस पैक को आराम से कम सामान के साथ बना सकती हैं। यहां जानें इसकी विधि-

 

सामग्री
    2-3 बड़े चम्मच सरसों का तेल
    1 बड़ा चम्मच बेसन
    1 बड़ा चम्मच दही
    1 चम्मच नींबू का रस

पैक बनाने का तरीका
    एक कटोरी में सरसों का तेल, दही, बेसन और नींबू का रस मिला लें।
    एक चम्मच लें और इन चीजों को अच्‍छी तरह से फेंट लें।
    अपने चेहरे पर मास्क की एक पतली परत लगाएं और इसे 15-20 मिनट तक सूखने दें।
    जब पैक सूख जाए तब चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।
    त्वचा में कसाव महसूस हो तो मॉइस्चराइजर लगाएं।
    बेहतरीन रिजल्‍ट के लिए सप्ताह में एक बार इस होममेड फेस पैक का उपयोग करें।

​रंग साफ करे
सरसों का तेल चेहरे से सिर्फ डार्क स्‍पॉट ही नहीं हटाता, बल्‍कि चेहरे के रंग को भी हल्‍का करता है। इस फेस पैके के अलावा आप चाहें तो सरसों के तेल में नारियल तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर सीधे अपने चेहरे पर लगाकर मालिश कर सकती हैं। इससे ब्लड सर्कुलेशन अच्छा रहता है। इस तेल का नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर चेहरे पर चमक आती है।

​लिप्स बनाए सॉफ्ट
सर्दियों में स्‍किन ड्राय होने लगती है, विशेष रूप से आपके होंठ शुष्क हो जाते हैं। साधारण लिप बाम और पेट्रोलियम जेली उन्हें एक या दो घंटे तक के लिए नम रख सकते हैं मगर उससे ज्‍यादा नहीं। यदि आप चाहें तो सोते समय भी आपने होठों को मुलायम बनाकर रख सकती हैं, इसके लिए सरसों के तेल की कुछ बूंद को होंठ पर लगाएं।

​सरसों तेल फेस मास्क के उपयोग के अन्य लाभ
सरसों के तेल से बेहतर सन्स्क्रीन कोई नहीं है। इसमें उच्च लेवल का विटामिन-ई होता है, जो नेचुरल सन्स्क्रीन की तरह काम करता है। यह सूरज की हानिकारक किरणों से हमारी त्वचा को बचाता हैं और समय से पहले झुर्रियों को आने से भी रोकता है। यह फेस पैक बेहद प्रभावशाली है क्‍योंकि इसमें नींबू और सरसों का तेल दोनों साथ में मिले हैं।

​उम्र बढ़ने के लक्षणों को रोके
फाइन लाइन्स और सैगिंग स्किन एक ऐसी चीज है जो कोई भी नहीं चाहता है। लेकिन अगर आप चाहें तो बढ़ती उम्र के संकेतों को धीमा जरूर कर सकते हैं। सरसों के तेल में विटामिन-ई उम्र बढ़ने के अन्य लक्षणों के साथ, झुर्रियों को कम करने में मदद कर सकता है। सरसों के तेल के फेस पैक को लगाने के अलावा, अपनी स्किनकेयर रूटीन और आहार पर भी ध्यान देना चाहिए।