सरकारी काम अब बंद, विधानसभा चुनाव में जुट जाइए: नीतीश कुमार

0
3

पटना 
बिहार के मुख्यमंत्री जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने पार्टी के 340 कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में नीतीश कुमार ने कहा कि मेरा कर्तव्य है, सबसे मिलना। हम तो मिलते ही रहते हैं। चुनाव आने वाला है। क्षेत्र वगैरह का भी आइडिया लोगों से लेते हैं। पटना में रहने पर रोज पार्टी ऑफ‌िस आते रहेंगे। कार्यकर्ताओं से मिलते रहेंगे।

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी के साथ पार्टी कार्यालय के कर्पूरी सभागार में मुख्यमंत्री ने पार्टीजनों से बेहद इत्मीनान से मुलाकात की। सबको समय दिया, सबको धैर्यपूर्वक सुना। कोई अपने लिए तो कोई किसी अपेक्षित के लिए टिकट की पैरवी कर रहा था। बहुतेरे ऐसे भी जो नीतीश कुमार से मूर्ति अनावरण, उद्घाटन समेत उनके क्षेत्र के अन्य कार्यक्रमों के लिए उनसे समय मांग रहे थे। 

नीतीश कुमार ने कार्यकर्ताओं से कहा कि सबलोग चुनाव में लगिए। अब कोई सरकारी काम नहीं होगा। मैंने भी सरकारी काम लेना बंद कर दिया है। फिर मौका मिलेगा तब करेंगे। उन्होंने सबसे क्षेत्र में जाने और लोगों को सरकार के कामकाज की जानकारी देने को कहा। कई ऐसी सीटें जिनपर सहयोगी दल भाजपा के सीटिंग एमएलए हैं, उनपर दावा लेकर पहुंचे लोगों से कहा कि पहले सीट तो तय होने दीजिए। नीतीश कुमार ने 'वन-टू-वन' सभी की बातें सुनीं, सभी को संतुष्ट करके वापस भेजा। इस दौरान राष्ट्रीय सचिव रवीन्द्र सिंह और प्रदेश महासचिव नवीन कुमार आर्य तथा अनिल कुमार भी मौजूद रहे। 

चंद्रिका राय से की अलग गुफ्तगू
लालू प्रसाद के समधी और हाल ही जदयू में शामिल हुए चंद्रिका राय भी नीतीश कुमार से मिलने जदयू ऑफिस पहुंचे। उनके साथ अलग बैठकर सीएम ने गुफ्तगू की। इस दौरान विजय चौधरी और अशोक चौधरी भी मौजूद रहे। मुलाकातियों में बाजपट्टी की विधायक डॉ. रंजूगीता, विधायक शर्फूद्दीन और मनोरमा देवी, पूर्व विधायक रणविजय सिंह, प्रतिभा सिन्हा, पूर्व एमएलसी राजकिशोर आदि प्रमुख रहे।