श्रीनगर सेक्टर में पहली बार महिला IPS बनाई गई CRPF की IG, नक्सलियों के बाद अब आतंकियों से लोहा लेंगी चारू सिन्हा

0
3

 नई दिल्ली 
ऐसा पहली बार हुआ है जब जम्मू-कश्मीर के सबसे आतंक प्रभावित इलाके श्रीनगर सेक्टर में एक महिला आईपीएस अधिकारी को सीआरपीएफ का इंस्पेक्टर जनरल (आईजी) नियुक्त किया गया है। 1996 बैच के तेलंगाना कैडर की आईपीएस अधिकारी चारू सिन्हा अब सीआरपीएफ के महानिरीक्षक (आईजी) के रूप में श्रीनगर सेक्टर की कमान संभालेंगी। यह पहली बार नहीं है जब उन्हें इतना कठिन काम सौंपा गया है, इससे पहले भी वह बिहार सेक्टर में सीआरपीएफ की आईजी के रूप में काम कर चुकी है और नक्सलियों से निपट चुकी हैं।

आतंकियों के गढ़ में घुसकर ताबड़तोड़ ऑपरेशन चला रहे सुरक्षा बल
बिहार सेक्टर में उनके नेतृत्व में विभिन्न एंटी नक्सल ऑपरेशन चलाए गए। बाद में उन्हें सीआरपीएफ के आईजी के तौर पर जम्मू में ट्रांसफर कर दिया गया, जहां उन्होंने एक लंबा और सफल कार्यकाल बिताया। सोमवार को जारी किए गए एक ताजा आदेश में उन्हें श्रीनगर सेक्टर के आईजी के रूप में नियुक्त किया गया। 

वर्तमान सीआरपीएफ महानिदेशक एपी माहेश्वरी ने भी 2005 में आईजी के रूप में श्रीनगर सेक्टर का नेतृत्व किया है। 2005 में शुरू हुए इस सेक्टर में कभी भी आईजी स्तर की महिला अधिकारी नहीं रही। ऐसा पहली बार होगा जब चारू सिन्हा यह पद संभालेंगी। इस सेक्टर का काम आतंक विरोधी अभियानों को सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस की मदद से अंजाम देना है।
 
सीआरपीएफ ने कहा के मुताबिक सीआरपीएफ के श्रीनगर सेक्टर में जम्मू-कश्मीर के तीन जिले बडगाम, गांदरबल और श्रीनगर और केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख आता है। इस सेक्टर में 2 रेंज, 22 कार्यकारी यूनिट और तीन महिला कंपनी आती हैं। इसके अलावा श्रीनगर सेक्टर का ग्रुप सेंटर-श्रीनगर पर प्रशासनिक कंट्रोल भी है। इन इलाकों में होने वाले सभी ऑपेशन में चारू सिन्हा हेड करेंगी।

गौरतलब है कि आईपीएस अफसर चारू सिन्हा अप्रैल 2018 में सीआरपीएफ बिहार सेक्टर की नई आईजी बनी थीं। इससे पहले तेलंगाना पुलिस में निदेशक एसीबी के पद पर तैनात थीं। आईपीएस अधिकारी और बिहार सेक्टर के आईजी रहे एमएस भाटिया से उन्होंने बिहार सेक्टर का प्रभार ग्रहण किया था।