शिवराज सिंह जी तो नारियल अपनी जेब में लेकर घूमते हैं- कमलनाथ का शिवराज सिंह चौहान पर तंज

0
5

 
 ग्वालियर  
                                                   
मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने शनिवार को कहा कि राज्य में होने वाले विधानसभा उपचुनाव से ग्वालियर चंबल अंचल के साथ ही प्रदेश के युवाओं का भविष्य तय होगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सिर्फ प्रचार करती है। शिवराज सिंह जी तो नारियल अपनी जेब में लेकर घूमते हैं। जहां मौका मिल जाता है वहां नारियल फोड़ लेंगे। जब भी चुनाव आता है, दोनों जेबों में नारियल रखते हैं।

कमलनाथ ने अपने दिवसीय प्रवास के दौरान यहां पत्रकारों से चर्चा में कहा कि उनका प्रयास होगा कि ग्वालियर अंचल प्रदेश ही नहीं देश में भी अपनी पहचान बनाएं। उन्होंने यह भी कहा कि उपचुनाव यह तय करेंगे कि राज्य किस पटरी पर चलेगा तथा इस उपचुनाव से प्रदेश के युवाओं का भी भविष्य तय होगा। उन्होंने कहा कि हमने अपनी 15 महीने की सरकार में अपनी नीति और नीयत का परिचय दिया। उन्हें इसके लिए किसी भाजपा नेताओं का सर्टिफिकेट नहीं चाहिए, जनता इसकी गवाह है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा उनसे 15 माह का हिसाब मांग रही है। पहले वह तो 15 सालों का हिसाब दें। उन्होंने भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान आयोजित हुईं इन्वेस्टर्स मीट पर निशाना साधा और कहा कि कितनी इन्वेस्टर्स समिट हुईं। लाखों करोड़ों के निवेश के वादे किए गए, दावे किए गए, पर निवेश नहीं आया। उन्होंने कहा कि निवेश लाने के लिए विश्वास का माहौल पैदा करने की आवश्यकता होती है।

उन्होंने कहा कि हमने प्रदेश के 26 लाख किसानों का कर्ज माफ किया, लेकिन भाजपा इसको लेकर असत्य बयानबाजी कर प्रदेश की जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रही है, जो अब चलने वाला नही है। उन्होंने भाजपा नेताओं से कहा कि वे आमने- सामने बैठ जाये, वह उन्हें 26 लाख किसानों के नाम, उनके गांव का नाम, माफ़ क़र्ज़ की राशि का रिकार्ड उपलब्ध कराने को तैयार हैं।

कमलनाथ ने कहा कि ग्वालियर-चंबल की राजनीति और विकास पर अभी तक ज्यादा दखल नहीं दिया पर अब परिस्थितियां बदल गई है और ऐसे में ग्वालियर-चंबल का विकास उनकी प्राथमिकता रहेगी। हम ग्वालियर- चम्बल का सवार्ंगीण विकास करेंगे। यह चुनाव प्रदेश के साथ ही ग्वालियर-चंबल के भविष्य का चुनाव है। उनका प्रयास रहेगा कि हम ग्वालियर-चंबल में विकास कार्य में एक नया इतिहास बनाएं।